न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

संशोधित डीपीआर नहीं बनने से रूका हरमू फ्लाईओवर का निर्माण कार्य, अब जनवरी से शुरू होगा काम

नगर विकास सचिव ने 15 नवंबर से कार्य शुरू करने का दिया था निर्देश  

34

Ranchi : प्रस्तावित हरमू फ्लाईओवर का निर्माण कार्य अब 15 नवंबर से नहीं शुरू हो पाएगा. ऐसा इसलिए कि नगर विकास विभाग की एजेंसी झारखंड अर्बन इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कंपनी (जुडको) द्वारा मेकॉन को भेजे संशोधित DPR  नहीं बना है. संशोधित डीपीआर नहीं बनने से प्लाईओवर का टेंडर कार्य भी समय पर शुरू नहीं किया जा सका है. ऐसे में माना जा रहा है कि अगर मेकॉन फ्लाईओवर का संशोधित डीपीआर नवंबर माह तक पूरा कर लेता है, तो दिसंबर माह में टेंडर कार्य शुरू कर दिया जाएगा. एक से डेढ़ माह तक चलने वाली इस टेंडर कार्य होने पर अगले वर्ष मध्य जनवरी से फ्लाईओवर निर्माण कार्य़ शुरू होने की बात कही जा रही है.

mi banner add

इसे भी पढ़ें – महाधिवक्ता के गलत तथ्य से HC ने शाह ब्रदर्स को किस्तो में बकाया लौटाने को कहा था, अब सरकार ने महाधिवक्ता से कहा कोर्ट से करें पुनर्विचार का अनुरोध

सचिव ने 15 नवंबर को दिया था अल्टीमेटम

मालूम हो कि गत 5 सितंबर को नगर विकास सचिव ने प्लाईओवर निर्माण कार्य को लेकर जुडको, मेकॉन के अधिकारियों के साथ एक बैठक की थी. बैठक में उन्होंने मेकॉन को संशोधित डीपीआर बनाने का निर्देश दिया था. साथ ही योजना के लिए किसी तरह की जमीन अधिग्रहण नहीं करने की भी बात की थी. उन्होंने कहा था कि पूर्व में बने डीपीआर में यूटिलिट सर्विसेज हेतु 4 डक का निर्माण किया जाना था और इसी वजह से कई क्षेत्रों में जमीन अधिग्रहण किया जाना था. निर्देश देते हुए उन्होंने कहा था कि संशोधित डीपीआर में 4 डक की जगह केवल 1 डक का निर्माण किया जाए, ताकि किसी भी तरह से जमीन का अधिग्रहण न हो.

इसे भी पढ़ें – आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका, पारंपरिक ग्रामप्रधानों को सरकार का दीवाली गिफ्ट, मिलेगा बढ़ा हुआ मानदेय

DPR था 123 करोड़ का, अब हो सकता है परिवर्तन

Related Posts

गिरिडीह : बार-बार ड्रेस बदलकर सामने आ रही थी महिलायें, बच्चा चोर समझ लोगों ने घेरा

पुलिस ने पूछताछ की तो उन महिलाओं ने खुद को राजस्थान की निवासी बताया और कहा कि वे वहां सूखा पड़ जाने के कारण इस क्षेत्र में भीख मांगने आयी हैं

जुडको के एक अधिकारी ने कहा है कि विभागीय सचिव के आदेश के बाद भी मेकॉन ने संशोधित डीपीआर का निर्माण तय समय सीमा में पूरा नहीं किया है. ऐसे में टेंडर की प्रकिया भी नहीं हो पाई है. संशोधित डीपीआर के पहले का डीपीआर करीब 123 करोड़ का था. अब अगर नए डीपीआर में  कुछ भी परिवर्तन होता है तो उक्त राशि में भी परिवर्तन होना स्वाभाविक है. संशोधित डीपीआर नवंबर महीने में अंत तक देने पर दिसंबर से जुडको टेंडर जारी कर देगा. ऐसे में जनवरी माह के मध्य से प्लाईओवर निर्माण कार्य शुरू होने की संभावना है.

इसे भी पढ़ें – गोमिया में पुलिस vs ग्रामीण, महिलाओं ने पुलिस वालों से की धक्का-मुक्की, मौके से भागते पुलिसवालों का देखें वीडियो

सचिव ने की पुष्टि, कहा जनवरी से शुरू होगा निर्माण कार्य

फ्लाईओवर निर्माण में देरी की पुष्टि विभागीय सचिव ने भी न्यूज विंग संवादादाता से की. उन्होंने कहा कि उनके पूर्व के दिये निर्देश के बाद भी 15 नवंबर तक प्लाईओवर निर्माण कार्य शुरू नहीं हो पायेगा. इसके पीछे के कारणों पर चर्चा करते हुए सचिव ने कहा कि फ्लाईओवर निर्माण के लिए जो भी प्राकलित राशि निर्धारित की गयी थी. उसपर अब मेकॉन द्वारा संशोधित किया जाना है. दरअसल इसके पीछे एनएचएआई द्वारा बनाए जा रहे एलिवेटड फ्लाईओवर और हरमू फ्लाईओवर दोनों का रातू चौक के पास के क्रास होना है. इसी संदर्भ में राशि का संशोधन किया जाना है. उन्होंने कहा कि ऐसे में अगले वर्ष जनवरी माह में हरमू फ्लाईओवर निर्माण कार्य शुरू होने की बात उन्होंने कही.

इसे भी पढ़ें –धनतेरस पर बाबूलाल मरांडी ने रघुवर सरकार पर फोड़ा 5000 करोड़ का बम

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: