JharkhandLead NewsRanchi

सरकार गिराने की साजिश मामलाः मोबाइल और अन्य डिवाइस की फोरेंसिक जांच कोलकाता और अहमदाबाद के लैब में होगी

♦रांची सिविल कोर्ट ने रांची पुलिस को दी अनुमति

Ranchi : झारखंड में झामुमो-कांग्रेस महागठबंधन की हेमंत सोरेन सरकार गिराने की साजिश में संलिप्त मुख्य तीनों आरोपियों अभिषेक कुमार दुबे, अमित सिंह और निवारण प्रसाद के पास से बरामद मोबाइल और अन्य डिवाइसों की फोरेंसिक जांच कोलकाता और अहमदाबाद के लैब में की जायेगी. रांची सिविल कोर्ट ने रांची पुलिस को इसकी अनुमति दे दी है. मालूम हो कि ये तीनों आरोपी अब भी रांची पुलिस की गिरफ्त में हैं. इसके बावजूद रांची पुलिस अभी तक मामले के तह तक नहीं पहुंच पायी है. ऐसे में रांची पुलिस ने आरोपियों के पास से बरामद मोबाइल और अन्य डिवाइस की फोरेंसिक जांच की अनुमति रांची सिविल कोर्ट से मांगी थी.

advt

अभी तक के पुलिस जांच में प्रदेश के 3 विधायक, 2 पत्रकार और एक दलाल के इस साजिश में शामिल होने की जानकारी आरोपियों ने दी है. पुलिस अधिकारियों के मुताबिक दिल्ली में तीनों विधायकों से रुपये के लेनदेन की बात हुई थी. वहीं, इस डील में महाराष्ट्र के दो नेता चंद्रशेखर राव बावनकुले और चरण सिंह शामिल थे. गिरफ्तार हुए अभिषेक, अमित और निवारण महतो ने दोनों को महाराष्ट्र का बीजेपी विधायक बताया था, लेकिन वहां के विधायकों की लिस्ट में इनका नाम नहीं है.

इसे भी पढ़ें – रिम्स में एडवोकेट्स का पैनल तैयार, सुप्रीम कोर्ट और हाइकोर्ट के लिए बनी टीम

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: