न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चेतना कार्यक्रम के माध्यम से बच्चों को किया जाएगा जागरूक

बच्चों के ट्रैफिकिंग एवं गलत राह में जाने से रोकने के उद्देश्य से इप्सोवा एवं शक्ति वाहिनी के द्वारा चेतना कार्यक्रम की शुरुआत

140

Ranchi : बच्चों के ट्रैफिकिंग एवं गलत राह में जाने से रोकने के उद्देश्य से इप्सोवा एवं शक्ति वाहिनी के द्वारा चेतना कार्यक्रम की शुरुआत की गई. इस कार्यक्रम के अंतर्गत जारी किए गए टोल फ्री  नंबर पर बच्चें अपनी समस्या बता सकेंगे. बच्चों को किसी तरह की परेशानी न हो एवं उन्हें ट्रैफिकिंग से बचाने का कार्य किया जाएगा. मौके पर मौजूद शिक्षा मंत्री नीरा यादव ने बताया कि इप्सोवा और शक्ति वाहिनी की महिलाओं की यह एक अच्छी पहल है. इसके माध्यम से बच्चों मैं जागरूकता लाने का कार्य किया जाएगा जो काफी सराहनीय जी. यह महिलाओं की अच्छी सोंच दर्शाता है. उन्होंने कहा की बच्चे जब जागरूक हो जाएंगे तब वह गलत काम करने से रुक जाएंगे, लेकिन मकसद सिर्फ जागरूक करना भर नहीं बल्कि आस पास के गलत गतिविधियों की जानकारी देना भी होना चाहिए. ये सभी बातें बच्चों को जानना बेहद जरूरी है.

इसे भी पढ़ें- मिशनरीज ऑफ चैरिटी ने डीसी से की हिनू स्थित शिशु सदन को खोलने और बच्चे लौटाने की मांग



7070952222 पर करें शिकायत : आरती कुजूर

कार्यक्रम में उपस्थित बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष आरती कुजूर ने बच्चों को चेतना के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि आपको किसी तरह की कोई भी परेशानी हो या आपको कोई तंग कर रहा हो आप सीधे अपना कंप्लेंट इस कंप्लेन बॉक्स में या फिर टोल फ्री नंबर में 7070952222 जानकारी दे सकते हैं. तुरंत उनके शिकायत पर कार्रवाई की जाएगी.

इसे भी पढ़ें- बच्चों की देखरेख के नाम पर अनुदान राशि का मनचाहा उपयोग कर रहे एनजीओ, जांच में हुआ खुलासा

सभी स्कूल में लगेगा कंप्लेन बॉक्स : पूनम

इप्सोवा की अध्यक्ष डॉ पूनम पांडे ने बताया कि हम लोगों ने बच्चों को जागरूक करने के लिए या बच्चे के साथ हो रही परेशानी को देखते हुए हर स्कूल में ड्रॉप बॉक्स लगाने का निर्णय लिया है. इस कार्य की शुरुआत हो चुकी है. जो भी बच्चा कंप्लेन बॉक्स में अपनी शिकायत डालेंगे उसका समाधान जल्द ही कर दिया जाएगा, इसके अलावा शिकायत करने वाले बच्चे का नाम भी गोपनीय रखा जाएगा.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: