HazaribaghJharkhand

जयंती पर हजारीबाग में कांग्रेसियों ने इंदिरा गांधी को किया याद

Hazaribagh : जिला कांग्रेस कमिटी के तत्वावधान में गुरुवार को जिला कार्यालय कृष्ण वल्लभ आश्रम में भारत की पहली महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की 103वीं जयंती मनायी गयी. कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला अध्यक्ष अवधेश कुमार सिंह ने की. उनहोंने कहा कि नेहरू परिवार को देशभक्ति की घुट्टी मानो बचपन से ही पिलायी गयी है.

मोतीलाल नेहरू, जवाहरलाल नेहरू के बाद इंदिरा गांधी ने देश को सुदृढ़ नेतृत्व दिया. उन्होंने पिता के साथ रहकर राजनीति की बारीकियां तो आत्मसात की ही, साथ ही अंतरराष्ट्रीय संबंधों को भी बखूबी समझकर उनका समुचित उपयोग किया.

इसे भी पढ़ें: एस्कॉर्ट सर्विस दिलाने के नाम पर आठ लाख रुपये की ऑनलाइन ठगी करने के सात आरोपी गिरफ्तार

विश्व शांति के लिए उनके प्रयासों को सदा याद किया जायेगा : अवधेश

अवधेश कुमार सिंह ने कहा कि इंदिरा गांधी ने कांग्रेस संगठन पर अपना कड़ा नियंत्रण ही नहीं रखा, बल्कि शासन के साथ-साथ संगठन की धुरी भी संभालकर रखी. आपत्तियां अनेक आयीं, पति और पुत्र का वियोग सहन करना पड़ा, लेकिन धैर्य नहीं खोते हुए वह अपने चुने हुए मार्ग पर बढ़ती रहीं.

अपने लक्ष्य की पूर्ति के लिए किसी से समझौता नहीं किया. 1971 का बांग्लादेश की आजादी का युद्ध उनके सक्रिय सहयोग से ही जीता जा सका. निर्गुट देशों के संगठन और विश्व शांति हेतु उनके प्रयासों को सदा याद किया जायेगा.

बैंकों के राष्ट्रीयकरण, 20 सूत्री कार्यक्रम चलाने का श्रेय इंदिरा गांधी को जाता है : शशिकांत

इस अवसर पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशिकांत ओझा ने कहा कि इंदिरा गांधी पंडित जवाहरलाल नेहरू की पुत्री थीं, इन्होंने कैम्ब्रिज और शांति निकेतन में शिक्षा प्राप्त की. लालबहादुर शास्त्री के बाद वह भारत की प्रथम महिला प्रधानमंत्री बनीं. राष्ट्रपति के प्रश्न पर मतभेद होने के कारण कांग्रेस के दो दल हो गये और यह शासकीय कांग्रेस की नेता बनीं.

1971 में चुनाव में कांग्रेस को दो तिहाई बहुमत प्राप्त हुआ. बैंकों का राष्ट्रीयकरण, आईसीएस और राजाओं के विशेषाधिकार को समाप्त करने, भूमि सुधारों, शहरी भूमि सीमा निर्धारण, 20 सूत्री कार्यक्रम चलाने का श्रेय इन्हीं को जाता है. कार्यक्रम का संचालन कृष्णा कुमार शर्मा तथा धन्यवाद ज्ञापन बीसी मिश्रा ने किया.

इसे भी पढ़ें: हजारीबाग जेल में 26 कैदी मना रहे छठ महापर्व, जेल प्रशासन कर रहा मदद

कार्यक्रम में ये रहे मौजूद

मौके पर पूर्व अध्यक्ष जवाहरलाल सिन्हा, विजय कुमार यादव, शशि मोहन सिंह, वीरेंद्र कुमार सिंह, मिथिलेश दुबे, बिनोद सिंह, मीडिया प्रभारी निसार खान, ओम झा, अजय कुमार गुप्ता, ज्ञानी मेहता, डॉ जमाल अहमद, मकसूद आलम, ओम प्रकाश गोप, मंसूर आलम, जावेद मल्लिक, सुनील सिंह राठौर, साजिद हुसैन, नसीम खान, संजय कुमार तिवारी, तसलीम अंसारी, युवा कांग्रेस के अध्यक्ष शैलेंद्र कुमार यादव, सुनील अग्रवाल, उदय पांडेय, अब्बास अंसारी, तारिक रजा, अफरोज आलम, अजित कुमार सिंह, दिलीप कुमार रवि, सदरुल होदा, सुनील कुमार ओझा, विजय कुमार सिंह, उदय कुमार साव, सैयद अशरफ अली, मुकुल कुमार तिवारी, रोहन ठाकुर के अतिरिक्त कई कांग्रेसी कार्यकर्ता मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें: रिम्स में इलाजरत इनामी माओवादी तूफान की मौत

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: