न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कांग्रेस को मिलेगा नया कप्तान ! आज होनेवाली CWC की बैठक में निर्णय संभव

मुकुल वासनिक का नाम सबसे आगे, मल्लिकार्जुन खड़गे, अशोक गहलोत, सुशील कुमार शिंदे सहित कई वरिष्ठ नेताओं के नामों की भी चर्चा

842

New Delhi: कांग्रेस को अबतक नया अध्यक्ष नहीं मिल पाया है. वैसे उम्मीद की जा रही है कि शनिवार को होनेवाले कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) की बैठक में अंतरिम अध्यक्ष के रूप में नए नेता का ऐलान हो सकता है.

गौरतलब है कि लोकसभा में करारी हार मिलने के बाद राहुल गांधी ने पार्टी अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था.कांग्रेस वर्किंग कमेटी पार्टी के नए अध्यक्ष के लिए शनिवार को बैठक करने जा रही है.

इसे भी पढ़ेंःजम्मू में पटरी पर लौटी जिंदगी, हटायी गयी धारा 144, बकरीद पर मिल सकती है कर्फ्यू में ढील

राहुल गांधी नए अध्यक्ष के लिए वृहद स्तर पर चर्चा की बात कर रहे हैं. सीडब्ल्यूसी की बैठक में दो दशकों में पहली बार गांधी परिवार से बाहर के किसी शख़्स को पार्टी की कमान मिल सकती है.

सूत्रों की मानें तो मुकुल वासनिक का नाम इस रेस में सबसे आगे चल रहा है. हालांकि, मल्लिकार्जुन खड़गे, अशोक गहलोत, सुशील कुमार शिंदे सहित कई वरिष्ठ नेताओं के नामों की भी चर्चा है.

Mayfair 2-1-2020

कांग्रेस को मिलेगा नया अध्यक्ष

वही कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक से एक दिन पहले शुक्रवार को राहुल गांधी ने पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों से कहा कि अगले कुछ दिनों के भीतर नए अध्यक्ष को लेकर फैसला हो जाएगा.

सूत्रों के मुताबिक पार्टी महासचिवों, प्रदेश अध्यक्षों, विधायक दल के नेताओं, विभाग प्रमुखों और सांसदों की बैठक में गांधी ने कहा कि शनिवार को होने जा रही कांग्रेस कार्य समिति की बैठक में अध्यक्ष के चयन को लेकर व्यवस्था बन जाएगी और अगले कुछ दिनों के भीतर निर्णय हो जाएगा.

Sport House

बैठक में मौजूद एक नेता ने न्यूज एजेंसी पीटीआइ को बताया कि राहुल गांधी ने यह भी स्पष्ट किया कि वह अध्यक्ष नहीं रहते हुए भी पार्टी के नेताओं-कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर काम करते रहेंगे. उन्होंने कहा कि यह विचारधारा की लड़ाई है और इसमें कांग्रेस जीतेगी और वापसी करेगी.

इसे भी पढ़ेंःBSL से व्यापार करने वाली 200 कंपनियां बंद होने के कगार पर, स्टील मिनिस्टर से हस्तक्षेप करने की मांग

Related Posts

सुप्रीम कोर्ट ने CAA के बाद #NPR पर रोक लगाने से इनकार किया,  केंद्र को नोटिस जारी कर जवाब मांगा

कोर्ट ने CAA और NPR पर रोक लगाने से इनकार करते हुए केंद्र सरकार को नोटिस जारी किया है.  

बीजेपी की चाल

एक सूत्र ने बताया, ‘बैठक में कुछ नेताओं ने कहा कि भाजपा का गेमप्लान है कि कांग्रेस को गांधी परिवार से अलग कर दिया जाए, ऐसे में हमें इस गेम प्लेन में नहीं पड़ना चाहिए. इस पर गांधी ने कोई जवाब नहीं दिया.’

उधर, सीडब्ल्यूसी की बैठक से एक दिन पहले पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने शुक्रवार को संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) प्रमुख सोनिया गांधी से मुलाकात की.

सूत्रों के मुताबिक अहमद पटेल, एके एंटनी और केसी वेणुगोपाल सोनिया से मिले. माना जा रहा है कि उन्होंने पार्टी अध्यक्ष के लिए कुछ नामों पर चर्चा की है.

दरअसल, राहुल गांधी के इस्तीफे के बाद से बनी असमंजस की स्थिति और नेतृत्व के संकट को खत्म करने की कोशिश करते हुए कांग्रेस ने आगामी 10 अगस्त को सीडब्ल्यूसी की बैठक बुलायी है.

पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पहले पार्टी अध्यक्ष की जिम्मेदारी किसी युवा नेता को सौंपने की बात की और फिर महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के नाम की पैरवी की. वैसे, कांग्रेस के कई दूसरे नेता भी अध्यक्ष पद के लिए प्रियंका के नाम की पैरवी कर चुके हैं.

हार के बाद राहुल ने दिया था इस्तीफा

लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की करारी हार के बाद राहुल गांधी ने पार्टी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था. उस वक्त उनके इस्तीफे को अस्वीकार करते हुए सीडब्ल्यूसी ने उन्हें पार्टी में आमूलचूल बदलाव के लिए अधिकृत किया था.

हालांकि गांधी अपने रुख पर अड़े रहे और स्पष्ट कर दिया कि न तो वह और न ही गांधी परिवार का कोई दूसरा सदस्य इस जिम्मेदारी को संभालेगा.

अपने इस्तीफे की घोषणा करते हुए गांधी ने यह भी कहा था कि कांग्रेस अध्यक्ष नहीं रहते हुए भी वह पार्टी के लिए सक्रिय रूप से काम करते रहेंगे. उनके समर्थन में बहुत सारे नेताओं ने भी इस्तीफा दे दिया था.

गांधी के इस्तीफे के बाद से अगले अध्यक्ष के चुनाव को लेकर पार्टी में लगातार असमंजस की स्थिति बनी हुई है. नये अध्यक्ष को चुनने के लिए कई दौर की बैठकें हुईं, लेकिन किसी नाम पर सहमति नहीं बन पायी.

इसे भी पढ़ेंःजिस आदित्यपुर ऑटो कलस्टर को उपलब्धि मान रही है सरकार, उसके 160 उद्योग बंदी के कगार पर

SP Jamshedpur 24/01/2020-30/01/2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like