NationalTOP SLIDER

कांग्रेस  के दिग्गज नेता अहमद पटेल नहीं रहे, पीएम मोदी ने शोक व्यक्त किया…

हम दोनों वर्ष 1977 से साथ रहे.  वे लोकसभा और विधानसभा में पहुंचे.  हम सभी कांग्रेसियों के लिए वे हर राजनीतिक मर्ज की दवा थे.  

NewDelhi : कांग्रेस  के दिग्गज नेता अहमद पटेल नहीं रहे. खबर है कि अहमद पटेल का बुधवार सुबह गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में निधन हो गया. बता दें कि कोरोना संक्रमित होने के बाद 71 वर्षीय अहमद पटेल के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित कई नेताओं ने अहमद पटेल के निधन पर शोक व्यक्त किया है

इसे भी पढ़े : दुर्भाग्य है केंद्र उस वैक्सीन की परिकल्पना कर रहा है, जो अभी दुनिया में आया ही नहीं है : हेमंत

अहमद पटेल ने कई वर्षों तक जनता की सेवा की

. प्रधानमंत्री मोदी  लिखा,अहमद पटेल ने कई वर्षों तक जनता की सेवा की. कांग्रेस पार्टी को मजबूत बनाने में उनकी अहम भूमिका को हमेशा याद रखा जायेगा. वह अपने तेज दिमाग की वजह से जाने जाते थे. पीएम ने उनके बेटे फैजल से बात कर संवेदना व्यक्त की. अहमद भाई की आत्मा को शांति मिले.

 पटेल का पूरा जीवन कांग्रेस को समर्पित था :  सोनिया गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि पटेल एक ऐसे कामरेड, निष्ठावान सहयोगी और मित्र थे जिनकी जगह कोई नहीं ले सकता. सोनिया ने यह भी कहा कि पटेल का पूरा जीवन कांग्रेस को समर्पित था. उन्होंने एक शोक संदेश में कहा, श्री अहमद पटेल के जाने से मैंने एक ऐसा सहयोगी खो दिया है जिनका पूरा जीवन कांग्रेस पार्टी को समर्पित था.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर शोक व्यक्त किया है. प्रियंका गांधी लिखती हैं, ‘अहमद जी न केवल एक बुद्धिमान और अनुभवी सहकर्मी थे, जिनसे मैंने लगातार सलाह ली.  वे ऐसे दोस्त भी थे जो हम सभी के साथ दृढ़ता से, ईमानदारीपूर्वक, अंत तक खड़े रहे.  उनकी आत्मा को शांति मिले.

इसे भी पढ़े : चीन के खिलाफ भारत का तीसरी बार डिजिटल स्ट्राइक, 43 चीनी मोबाइल ऐप्स किये बैन

दिग्विजय सिंह ने अहमद पटेल को श्रद्धांजलि अर्पित की

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने अहमद पटेल को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए लिखा, अहमद पटेल नहीं रहे. एक अभिन्न मित्र विश्वसनीय साथी चला गया,  हम दोनों वर्ष 1977 से साथ रहे.  वे लोकसभा और विधानसभा में पहुंचे.  हम सभी कांग्रेसियों के लिए वे हर राजनीतिक मर्ज की दवा थे.  दिग्विजय सिंह लिखते हैं, ‘कोई भी कितना ही गुस्सा होकर जाए उनमें यह क्षमता थी कि वे उसे संतुष्ट कर ही भेजते थे.

कड़वी बात भी बेहद मीठे शब्दों में कहना उनसे सीख सकता था.  कांग्रेस पार्टी उनका योगदान कभी भी नहीं भुला सकती. अहमद भाई अमर रहें. अहमद पटेल के बेटे फैजल पटेल के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए दिग्विजय सिंह लिखते हैं, अहमद भाई बहुत ही धार्मिक व्यक्ति थे और कहीं पर भी रहें नमाज पढ़ने से कभी नहीं चूकते थे. आज देव उठनी एकादशी भी है, जिसका सनातन धर्म में बहुत महत्व है. अल्लाह उन्हें जन्नतउल फ़िरदौस में आला मकाम अता फरमायें आमीन.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: