न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

कांग्रेस का प्रवक्ता बनने के लिए होनी थी लिखित परीक्षा, लेकिन पहले ही हो गया ‘पेपर लीक’

438

Lukhnow:  राहुल गांधी के अध्यक्ष बनने के बाद कांग्रेस बदलाव की तरफ है. अब कांग्रेस का प्रवक्ता बनने के लिए भी लिखित परीक्षा पास करनी होगी. लखनऊ में उत्तर प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता बनने की लिखित परीक्षा आयोजित की गई. लेकिन ये क्या ? परीक्षा होने से पहले ही पेपर लीक हो गया. अब विरोधी इसे कांग्रेस की संस्कृति बताकर मजाक उड़ा रहे हैं तो कोई इसे यूपी का असर बता रहा है.

eidbanner

‘राज बब्बर से पत्रकार ने पूछा, पेपर लीक के पीछे मोदी का हाथ तो नहीं’
प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राज बब्बर ने यूपीसीसी की मीडिया कमेटी को भंग कर दिया था. अब नई मीडिया कमेटी का गठन होना है. इसके लिए ही लिखित परीक्षा आयोजित की गई थी. पेपर लीक की खबरें मीडिया में आने के बाद सफाई देने के लिए कांग्रेस ने प्रेस कांफ्रेंस भी बुला ली. छूटते ही एक पत्रकार ने पूछ लिया, कहीं पेपर लीक के पीछे मोदी या बीजेपी का हाथ तो नहीं ? इतना सुनते ही ठहाके लगने लगे. राज बब्बर मुस्कुराए तो जरुर, लेकिन जल्द ही संभल गये.

इसे भी पढ़ें-गोमिया विधायक बबीता देवी को भतीजा हुआ लापता, मामले की मजिस्ट्रेट जांच शुरु

परीक्षा के दौरान खूब हुआ नकल
करीब एक घंटे की लिखित परीक्षा में 14 प्रश्न थे. इनमें से कुछ सवाल देख कर पार्टी नेताओं के छक्के छूट गए. इसके बाद कुछ ने नकल का प्रयास भी किया. परीक्षा में मोबाईल ले जाने की इजाजत थी. कुछ नेताओं ने मोबाइल से प्रश्नों की तस्वीर खींच, अपने समर्थकों को भेज दी. उधर से प्रश्नों का जवाब भी आ गया. तबतक परीक्षा ले रही प्रियंका चतुर्वेदी को नकल का खबर मिल चुकी थी. उन्होने सबका मोबाईल स्वीच्ड ऑफ करवा दिया.

Related Posts

बंगाल को तरजीह, सांसद अधीर रंजन चौधरी लोकसभा में कांग्रेस के नेता होंगे

अधीर रंजन चौधरी के साथ-साथ केरल के नेता के सुरेश, पार्टी प्रवक्ता मनीष तिवारी और तिरुवनंतपुरम के सांसद शशि थरूर इस पद के लिए दौड़ में शामिल थे.

परीक्षा के बाद होगा इंटरव्यू, दिल्ली से जारी होगा रिजल्ट
लिखित परीक्षा देने के बाद प्रवक्ता पद के अभ्यर्थी इंटरव्यू में पहुंचे तो ऐसे कई सवालों ने उनके पसीने छुड़ा दिए. कई अभ्यर्थी तो कुछ सवालों के बाद अटके, तो कई शुरुआती सवाल में ही बगले झांकने लगे. इन सारी कवायद से कुछ वरिष्ठ नेता नाराज भी दिखे. एक ने कहा, पूरी जिंदगी कांग्रेस का झंडा ढोया, सैंकड़ो लोगों को पार्टी से जोड़ा, अब बुढ़ापे में परीक्षा देना पड़ रहा है. इस परीक्षा का परिणाम दिल्ली से जारी होगा. परीक्षा को कराने का जिम्मा पार्टी की राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी को सौंपा गया था.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: