न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सांसद गीता कोड़ा के सहारे कोल्हान में टिकी है कांग्रेस, जेएमएम पर है सीट बचाने का प्रेशर

376
  • कांग्रेस और बीजेपी की रैलियों से जेएमएम के सामने परेशानी

Ranchi : झारखंड विधानसभा चुनाव में इस बार सबसे दिलचस्प मुकाबला पश्चिमी सिंहभूम जिले (चाईबासा संसदीय सीट) में देखने को मिल सकता है. बहरागोड़ा विधायक कुणाल षाड़ंगी के बीजेपी में शामिल होने से पार्टी की पूर्वी जमशेदपुर में जीत का रास्ता साफ होता दिख रहा है.

चाईबासा सीट की सभी विधानसभा सीटों पर बीजेपी अपनी जीत सुनिश्चित करने में जी जान से लगी है. दूसरी तरफ चाईबासा सांसद गीता कोड़ा और उनके पति मधु कोड़ा की मजूबती देख कांग्रेस भी क्षेत्र के कुछ विधानसभा सीट पर दावा करने को तैयार है.

कांग्रेस और बीजेपी की इस लड़ाई में झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) पर अपनी चारों सीट को बचाने का प्रेशर सबसे ज्यादा है.

इसे भी पढ़ें – #Bokaro विधायक और मेयर दिवाली पर खेल रहे हैं ‘शिलापट बम’, उड़ रहा मजाक, DC ने बैठा दी जांच

जनाक्रोश रैली आयोजित कर कांग्रेस का शक्ति प्रदर्शन

गत 23 अक्टूबर को कांग्रेस ने कोल्हान प्रमंडल के जगन्नाथपुर विधानसभा क्षेत्र में जनाक्रोश रैली आयोजित कर शक्ति प्रदर्शन किया था.

Mayfair 2-1-2020

इस दौरान सांसद गीता कोड़ा ने अपने पति मधु कोड़ा और समर्थकों की उपस्थिति में राज्य सरकार पर निशाना साधा, लेकिन इसका असर जेएमएम के विधायकों पर साफ देखा गया था.

हो जनजाति से संबंध रखनेवाली सांसद गीता कोड़ा के बल पर कांग्रेस इस बार यहां मजबूत उपस्थिति दर्ज कराने में लगी है. बात दें कि चाईबासा सीट में तकरीबन 20 लाख की संख्या हो जनजाति है.

Sport House

गीता कोड़ा की उपस्थिति से जेएमएम पर है प्रेशर

गीता कोड़ा की मजबूती को देखते हुए सबसे ज्यादा डर जेएमएम विधायकों को सता रहा है. चाईबासा संसदीय सीट की चार विधानसभा सीटों चाईबासा, मझगांव, मनोहरपुर व चक्रधरपुर पर जेएमएम का कब्जा है.

महागठबंधन बने चाहे न बने, जेएमएम किसी भी एवज में इन सीटिंग सीट को छोड़ने के मूड में नहीं है. वहीं सूत्रों का दावा है कि महागठबंधऩ बनने पर तो कांग्रेस जगन्नाथपुर छोड़ कुछ सीटों पर चुनाव लड़ने के मूड में है.

वहीं अगर महागठबंधन नहीं बनता है तो इसका सबसे ज्यादा नुकसान जेएमएम पर ही दिख रहा है. इसके पीछे की असली वजह कांग्रेस सांसद गीता कोड़ा की मजबूती और सीएम की इस क्षेत्र में की गयी घोषणाएं हैं.

इसे भी पढ़ें – अमेरिकी सेना ने #ISIS सरगना #AbuBakrAlBaghdadi को ढेर कर दिया, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने दी जानकारी

जन आशीर्वाद यात्रा से बीजेपी ने दिखायी ताकत

कांग्रेस और जेएमएम की खींचतान से अलग बीजेपी ने भी सिंहभूम क्षेत्र में अपनी ताकत दिखा दी है. कुछ दिन पहले सीएम रघुवर दास ने चक्रधरपुर में जोहार जन आशीर्वाद योजना के दौरान उनकी सरकार में विकास की बात को प्रमुखता से रखा था.

कोल्हान को जेएमएम मुक्त करने की बात करते हुए सीएम ने कहा था कि बीजेपी की सरकार दोबारा सत्ता में आयी, तो चक्रधरपुर को जिला बनाया जायेगा.

जेएमएम के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन को आदिवासी विरोधी बताते हुए सीएम ने कहा था कि चार विधायक होने के बावजूद इस क्षेत्र का विकास नहीं हो सका है.

इसे भी पढ़ें- जानिए उन विधायकों को जिन्होंने #BJP के उम्मीदवार को हराया और बन गए भाजपायी, अब टिकट को लेकर रार

SP Jamshedpur 24/01/2020-30/01/2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like