न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Congress को डर : हिंसा के साये में होगा नगर पालिका चुनाव

590

Kolkata: कांग्रेस की पश्चिम बंगाल इकाई ने हिंसा के साये में नगर पालिका चुनाव होने की आशंका व्यक्त की है.

पार्टी के मीडिया प्रभारी अमिताभ चक्रवर्ती ने शनिवार को कहा है कि एक दिन पहले कमरहट्टी में जिस तरह से तृणमूल के दो गुटों के बीच बमबारी और आगजनी हुई है वह इस बात के संकेत हैं कि आगामी नगर पालिका चुनाव किस तरह से होने वाले हैं.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

अमिताभ चक्रवर्ती ने कहा है कि कमरहट्टी में हुए हिंसक संघर्ष इस बात के संकेत हैं कि कैसे नगर पालिका चुनाव होंगे. बंगाल में अब बम, बंदूक कुटीर उद्योग हो गये हैं.

ममता बनर्जी एक के बाद एक पुलिस जिला बना रही हैं लेकिन प्रशासन संविधान के अनुसार काम करने के बजाय तृणमूल नेताओं के आदेशों का पालन करने में व्यस्त है.

राज्य गृह विभाग की व्यस्तता के कारण तृणमूल के संरक्षण में अपराधी शान से घूम रहे हैं.

इसे भी पढ़ें : #RMC: कमीशनखोरी के लिए निकाला गया था रोड मार्किंग का टेंडर, शिकायत के बाद हुआ रद्द

हिंसा के जिम्मेदार नेताओं पर कार्रवाई की मांग

Related Posts

राज्यपाल से मिलीं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, जगदीप धनखड़ ने कहा, सकारात्मक बातचीत हुई

सूत्रों के अनुसार राज्यपाल और मुख्यमंत्री के बीच गोपनीय बैठक हुई. हालांकि किस मुद्दे पर बात हुई, इस बारे में स्थिति स्पष्ट नहीं हुई.

अमिताभ ने मांग की है कि कमरहट्टी में हिंसा के लिए तृणमूल कांग्रेस के जो नेता जिम्मेवार हैं उनके खिलाफ तत्काल कार्रवाई की जानी चाहिए. अगर ऐसा नहीं हुआ तो हिंसा आसपास के क्षेत्रों में भी फैल जायेगी.

Sport House

उल्लेखनीय है कि शुक्रवार शाम कमरहट्टी में जमकर बमबारी और आगजनी हुई थी. तृणमूल कांग्रेस के स्थानीय पार्षद और एक स्थानीय नेता के गुटों के बीच हिंसा इतनी अधिक बढ़ गई थी कि हालात को संभालने के लिए बैरकपुर के पुलिस कमिश्नर मनोज वर्मा को मौके पर पहुंचना पड़ा था.

हमलावरों ने पुलिसकर्मियों पर भी हमले कर दिये थे. घटना में धरपकड़ अभियान तो चल रहे हैं लेकिन अभी तक कोई बड़ी गिरफ्तारी नहीं हुई है.

इसके अलावा अमिताभ चक्रवर्ती का यह बयान इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि ममता बनर्जी मुख्यमंत्री होने के साथ-साथ राज्य की गृह मंत्री भी हैं. इसलिए पुलिस प्रशासन की विफलता सीधे तौर पर सीएम को जिम्मेवार बनाती हैं.

इसे भी पढ़ें : #Garhwa: अस्तबल नुमा हॉस्पिटल में टॉर्च की रोशनी में ऑपरेशन, प्रशासन ने छापामारी कर सील किया

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like