JharkhandRanchi

कर्मचारियों और पेंशनधारियों का महंगाई भत्ता नहीं बढ़ाये जाने पर कांग्रेस ने जतायी नाराजगी

Ranchi: केंद्र सरकार द्वारा सरकारी कर्मचारियों और पेंशनधारियों की महंगाई भत्ता अब तक बढ़ोतरी नहीं किये जाने पर झारखंड प्रदेश कांग्रेस ने नाराजगी जतायी है.

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे ने कहा कि केंद्र सरकार की गलत नीतियों की वजह से देश की आर्थिक स्थिति अत्यंत खराब हो गयी है, इसका असर अब सरकारी कर्मचारियों को मिलने वाले वेतन और महंगाई भत्ता पर भी दिखने लगा है.

इसे भी पढ़ें :मन की बात : पीएम ने बताए कोरोना से बचाव के रास्ते, अपनी मां का भी किया जिक्र

ram janam hospital
Catalyst IAS

उन्होंने कहा कि एक ओर केंद्र सरकार पिछले साल से ही महामारी और लॉकडाउन का हवाला देते हुए कर्मचारियों के महंगाई भत्ते पर रोक लगायी हुई है, वहीं दूसरी ओर पेट्रोल-डीजल की कीमत में लगातार बढ़ोत्तरी से आम जनता के साथ ही सभी सरकारी कर्मचारियों और पेंशनर्स के घर का बजट भी ग़ड़बड़ा गया है. इसे देखते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने भी कोविड महामारी में देश सेवा में जुटे 113 लाख कर्मचारियों का साहस बढ़ाने की बजाय केंद्र सरकार द्वारा उनकी मेहनत की कमाई छीनने पर चिंता जतायी है. सैनिकों, सरकारी कर्मचारियों और पेंशनर्स से 37 हजार 500 करोड़ की लूट करना अपराध है.

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता लाल किशोरनाथ शाहदेव ने कहा कि केंद्र सरकार ने 18 महीने से सरकारी कर्मचारियों के 75 हजार करोड़ रुपये के महंगाई भत्ते पर रोक लगा रखा है, जबकि कोरोना काल में सरकारी कर्मचारियों ने एक-एक दिन का वेतन दिया, इससे सरकार को 75 हजार करोड़ रुपये की प्राप्ति हुई है.

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता डॉ राजेश गुप्ता छोटू ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा महंगाई भत्ता नहीं बढ़ाये जाने से सरकारी कर्मचारियों के उत्साह और मनोबल पर भी प्रतिकूल असर पड़ा है और अब इसका असर कामकाज पर भी दिखना शुरू हो गया है.

इसे भी पढ़ें :पलामू: पुलिस जवान के सूने घर में चोरी, लाखों की संपत्ति गायब

Related Articles

Back to top button