न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कांग्रेस ने 134 वां स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया, राहुल ने काटा केक

कांग्रेस ने 28 दिसंबर को अपना 134वां स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया. राहुल गांधी ने पार्टी मुख्यालय में झंडा फहराया और मनमोहन सिंह के साथ केट काटा.

1,136

 NewDelhi : कांग्रेस ने 28 दिसंबर को अपना 134वां स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया. इस अवसर पर कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी समेत कई नेता पार्टी मुख्यालय पहुंचे. राहुल गांधी ने पार्टी मुख्यालय में झंडा फहराया और मनमोहन सिंह के साथ केट काटा. इस बार का स्थापना दिवस कांग्रेस देश भर में जोरदार ढंग से मना रही है, क्योंकि हाल ही में पाचं राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव में तीन राज्यों में कांग्रेस ने जीत का स्वाद चखा है. इस कारण कांग्रेस पूरे जोश में है. जानकारी के अनुसार राहुल गांधी पार्टी के 60वें अध्यक्ष हैं. आजादी के बाद की बात करें, तो राहुल गांधी कांग्रेस के 19वें अध्यक्ष हैं. राहुल गांधी परिवार की पांचवीं पीढ़ी के हैं, जो इस कुर्सी पर काबिज हुए हैं. राहुल गांधी से पूर्व जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी, राजीव गांधी और सोनिया गांधी कांग्रेस के अध्यक्ष पद पर रह चुके हैं. आजादी के बाद से पार्टी अध्यक्ष पद सबसे लंबे समय यानी 19 साल तक सोनिया गांधी ने संभाला है. इंदिरा गांधी अलग-अलग कार्यकाल में सात वर्ष तक पार्टी अध्यक्ष रहीं. 1997 में सोनिया गांधी ने पार्टी की सदस्यता ली थी और 1998 में वे पार्टी अध्यक्ष बनीं.

16 आम चुनाव, जिसमें से कांग्रेस को छह में पूर्ण बहुमत मिला

आजादी से लेकर 2016 तक अभी तक 16 आम चुनाव हुए हैं. जिसमें से कांग्रेस को छह में पूर्ण बहुमत मिला है, जबकि चार बार कांग्रेस की अगुवाई में केंद्र में गठबंधन की सरकार भी बनी है. देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस की तरफ से अभी तक देश को सात प्रधानमंत्री मिल चुके हैं. पहला नाम जवाहरलाल नेहरू का था और आखिरी नाम मनमोहन सिंह का. इस क्रम में बता दें कि लाल बहादुर शास्त्री और मनमोहन सिंह कांग्रेस पार्टी के दो ऐसे नेता रहे जो प्रधानमंत्री तो रहे लेकिन पार्टी के अध्यक्ष नहीं रहे. जहां तक 2014 के आम चुनाव की बात करें तो 2014 के आम सभा चुनाव कांग्रेस के लिए अब तक के सबसे बुरे चुनाव कहे जा सकते हैं. इन चुनावों में कांग्रेस सिर्फ 44 सीटों में ही सिमट गयी. मोदी लहर में भाजपा ने पूर्ण बहुमत से सरकार बनाई.

बता दें कि 2014 के बाद से कांग्रेस को कई राज्य में भी हार का सामना करना पड़ा. लेकिन पहले पंजाब, फिर कर्नाटक और हाल ही में अब छत्तीसगढ़, राजस्थान और मध्य प्रदेश में जीत हासिल कर पार्टी का मनोबल काफी बढा हुआ है. 2019 आम चुनावों के लिए राहुल गांधी प्रधानमंत्री उम्मीदवार के रुप में मैदान में उतरेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: