National

#Ramchandra_Guha के राहुल पर तंज, मोदी की तारीफ से कांग्रेस नाराज, थरूर का जवाब, राहुल के पास वैकल्पिक दृष्टिकोण

विज्ञापन

NewDelhi :  इतिहासकार रामचंद्र गुहा द्वारा केरल साहित्‍य महोत्‍सव के दौरान राहुल गांधी की खिंचाई और पीएम मोदी की तारीफ कांग्रेस को रास नहीं आयी है. जान लें कि गुहा ने राहुल गांधी को पांचवी पीढ़ी का राजवंशी करार दिया था और कहा था कि केरल की जनता ने उन्हें लोकसभा भेजकर विनाशकारी कदम उठाया है. इसी क्रम में इतिहासकार ने पीएम नरेंद्र मोदी की मेहनती और सेल्फ मेड बताते हुए प्रशंसा की थी.

राहुल और पीएम मोदी पर ऐसी टिप्पणी कांग्रेस को पसंद नहीं आयी.  इसका जवाब पूर्व विदेश मंत्री और तिरुवनंतपुरम से सांसद शशि थरूर ने दिया. रामचंद्र गुहा को इसका जवाब देते हुए थरूर ने कहा कि राहुल के पास देश के लिए एक वैकल्पिक दृष्टिकोण है जिसका लाखों लोग समर्थन करते हैं.

advt


इसे भी पढ़ें :  साईं जन्मभूमि पर CM उद्धव के बयान के बाद बढ़ा बवाल, आज शिरडी बंद

adv

मोदी की क्षमता को देश को बांटने के परिणाम के ऊपर तरजीह नहीं देंगे

शशि थरूर ने ट्वीट किया,  मुझे उम्मीद है कि आप पीएम मोदी के कठोर परिश्रम करने की क्षमता को, इसके देश को बांटने के परिणाम के ऊपर तरजीह नहीं देंगे.  आप जो भी राहुल के बारे में सोचते हैं, लेकिन वास्तव में उनके पास देश के लिए वैकल्पिक दृष्टिकोण है जिसका समर्थन भाजपा को रोकने के लिए लाखों लोग करते हैं.

थरूर के ट्वीट पर  सफाई देते गुहा ने भी जवाब दिया… डियर शशि, मैं पीएम मोदी और उनकी पार्टी की विभाजनकारी राजनीति पर आपकी राय से पूरी तरह सहमत हूं और मैंने कई हालिया आर्टिकल में इस पर लिखा है. और राहुल गांधी का भारत के लिए दृष्टिकोण कठिन है, इस पर काम कर रहा हूं.

इसे भी पढ़ें : #Two_Child_Policy पर मोहन भागवत की सफाई, मैंने ऐसा कुछ नहीं कहा था कि सभी के दो बच्चे होने चाहिए…

युवा भारत पांचवीं पीढ़ी के शासक को नहीं चाहता है

जान लें कि कोझिकोड में आयोजित केरल साहित्‍य महोत्‍सव में गुहा ने कहा था, आप लोगों ने संसद के लिए राहुल गांधी को क्‍यों चुना? मैं निजी रूप से राहुल गांधी के खिलाफ नहीं हूं. वह बहुत शिष्‍ट हैं और सभ्‍य हैं लेकिन युवा भारत पांचवीं पीढ़ी के शासक को नहीं चाहता है.

अगर आप मलयाली लोग दोबारा राहुल गांधी को वर्ष 2024 में दोबारा चुनने की गलती करते हैं तो इससे सिर्फ नरेंद्र मोदी को फायदा होगा क्‍योंकि नरेंद्र मोदी का एक बड़ा लाभ यह है कि वह राहुल गांधी नहीं हैं.

नरेंद्र मोदी  राहुल गांधी नहीं हैं.

रामचंद्र गुहा ने कहा, नरेंद्र मोदी का सबसे बड़ा फायदा यह है कि वह राहुल गांधी नहीं हैं.  मोदी अपनी मेहनत से नेता बने हैं.  मोदी ने 15 साल तक एक राज्‍य को चलाया है. उनके पास प्रशासनिक अनुभव है. वह अविश्‍वसनीय रूप से बेहद मेहनती हैं और वह कभी भी यूरोप में छुट्टी नहीं मनाते हैं. मेरा विश्‍वास कीजिए,  मैं यह सब पूरी गंभीरता के साथ कह रहा हूं.

इतिहासकार इरफान हबीब भी रामचंद्र गुहा की टिप्पणी के बाद राहुल का बचाव करने आ गये. उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में राजवंश के प्रति नफरत पूरी तरह से सही है.  वह भी तब जब राहुल गांधी बेहद सभ्‍य और शिष्‍ट हैं,  लेकिन केवल एक राजवंश क्‍यों? देश में कई ऐसे राजवंशी हैं जो आगे बढ़ रहे हैं. यहां तक कि नये राजवंशी भी आ रहे हैं.

इसे भी पढ़ें : शेख हसीना ने कहा,  #CAA_NRC भारत का आंतरिक मामला, पर जरूरत समझ में नहीं आयी

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close