JharkhandJharkhand PoliticsRanchi

कांग्रेस का आरोप, राम के नाम पर देश को ठग रही है भाजपा

Ad
advt

Ranchi: झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे ने श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ ट्रस्ट पर घोटाले के कथित आरोप पर प्रतिक्रिया व्यक्त की है. उन्होंने कहा कि करोड़ों लोगों ने आस्था और भक्ति की वजह से भगवान राम के चरणों में चढ़ावा चढ़ाया है. उस चंदे का दुरुपयोग अधर्म है, पाप है, उनकी आस्था का अपमान है.

बीजेपी को लेकर आक्रामक रुख अपनाते हुए आलोक कुमार दूबे ने कहा कि भाजपा देश की एक ऐसी पार्टी है, जिसने लाश और कफन घोटाले तक को अंजाम दिया है. भगवान श्रीराम तो इनके लिए एक व्यापार का जरिया हैं. ये लोग दुनिया में कोई काम करने के लिए नहीं आये, ये चंदे के पैसे से जलपान करने में विश्वास करने वाले लोग हैं.

advt

जो लोग श्रीराम के नाम पर 5 मिनट में 16.5 करोड़ रुपये ठग सकते हैं. उनके बारे में यह सहज अनुमान लगाया जा सकता है कि राम के नाम पर राजनीति करने वाले पिछले सात सालों में देश को कितनी बार ठग चुके होंगे.

इसे भी पढ़ें :BIG NEWS : अडानी ग्रुप में 43 हजार करोड़ निवेश करने वाले 3 विदेशी फंडों के खाते फ्रिज

advt

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता लाल किशोरनाथ शाहदेव ने कहा कि श्री राम के नाम पर घोटाले की बात सामने आयी है. लेकिन फिर भी अब तक अंधभक्तों के मुंह पर ताला नहीं लगा है.

राम मंदिर के नाम पर करोड़ों रुपये का घोटाले करने वाले लोगों की सच्चाई अब सामने आ गयी है. इन्हें जनता समय आने पर जवाब देगी.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद में अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए ट्रस्ट बनाने की घोषणा की थी. इसका मतलब साफ है कि ट्रस्ट के एक-एक सदस्य प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जानकारी में काम कर रहे होंगे.

इसे भी पढ़ें :मकान पर मालिकाना हक के विवाद के बीच हरमू टेलीफोन एक्सचेंज में लगा ताला

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता डॉ राजेश गुप्ता छोटू ने कहा कि भगवान श्री राम के नाम पर राजनीति करने वाले लोगों की असलियत अब सामने आ चुकी है. यह न्यास उन्हीं आरएसएस-विहिप के लोगों का संगठन है.

जिसने इससे पहले भी मंदिर निर्माण पर 1400 करोड़ रुपये चंदे का हिसाब अब तक जनता को नहीं दिया. निर्मोही अखाड़े के अन्य सदस्यों द्वारा कई बार मांगने पर भी हिसाब नहीं दिया गया.

इसे भी पढ़ें : चिराग को 20 मिनट करना पड़ा इंतजार तब चाचा के घर मिली इंट्री, मगर नहीं हो सकी मुलाकात

advt
Adv

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: