Lead NewsNational

केंद्र सरकार और ट्विटर में बढ़ी तकरार, IT नियमों के अनुपालन के लिए दिया लास्ट चांस

आईटी कानून और अन्य दंडात्मक प्रावधानों के तहत हो सकती है कार्रवाई

New Delhi : केंद्र सरकार ने शनिवार को ट्विटर को नोटिस जारी कर उसे तत्काल नए आईटी नियमों के अनुपालन के लिए ‘एक आखिरी मौका’ दिया है. सरकार की ओर से आगाह किया गया है कि यदि ट्विटर इन नियमों का अनुपालन करने में विफल रहती है, तो वह आईटी कानून के तहत दायित्व से छूट को गंवा देगी.
इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने कहा कि ट्विटर द्वारा इन नियमों के अनुपालन से इनकार से पता चलता है कि माइक्रोब्लॉगिंग साइट में प्रतिबद्धता की कमी है और वह भारत के लोगों को अपने मंच पर सुरक्षित अनुभव प्रदान करने का प्रयास नहीं करना चाहती.

इसे भी पढ़ें :दिल्ली में फिर बढ़ा लॉकडाउन, बाजार और मॉल ऑड-ईवन के आधार पर खुलेंगे

दायित्व से मिली छूट ले ली जाएगी वापस

ram janam hospital
Catalyst IAS

सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने कहा, ‘भारत में करीब एक दशक से अधिक से परिचालन के बावजूद यह विश्वास करना मुश्किल है कि ट्विटर ने एक ऐसा तंत्र विकसित करने से इनकार कर दिया है, जिससे भारत के लोगों को उसके मंच पर अपने मुद्दों के समयबद्ध और पारदर्शी तरीके से उचित प्रक्रिया के जरिये हल में मदद मिलती.’
26 मई, 2021 से प्रभावी हैं नये नियम.

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

मंत्रालय ने कहा कि ये नियम हालांकि 26 मई, 2021 से प्रभावी हैं, लेकिन सद्भावना के तहत ट्विटर इंक को एक आखिरी नोटिस के जरिये नियमों के अनुपालन का अवसर दिया जाता है. उसे तत्काल नियमों का अनुपालन करना है. यदि वह इसमें विफल रहती है, तो उसे दायित्व से जो छूट मिली है, वह वापस ले ली जाएगी.
साथ ही उसे आईटी कानून और अन्य दंडात्मक प्रावधानों के तहत कार्रवाई के लिए तैयार रहना होगा. नोटिस में हालांकि यह नहीं बताया गया है कि ट्विटर को इन नियमों का अनुपालन कब तक करना है.

इसे भी पढ़ें :विश्व पर्यावरण दिवस पर धनबाद पुराना बाजार चैंबर की तरफ से किया गया पौधारोपण

Related Articles

Back to top button