न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सदर एसडीओ पर भ्रष्टाचार का आरोप, लोकायुक्त की अदालत में शिकायतवाद दर्ज

समाजसेवी रवि कुमार डे ने शपथ पत्र दायर करके आरोपों को सच बताया

706
  • शिकायकर्ता में बताया गया कि कोयला एवं राशन माफियाओं से वसूलते हैं नजराना
  •  अदालती मामलों में भी रिश्वत लेने का आरोप
  • एसडीओ ने कहा, कि शिकायतवाद की नहीं है मुझे जानकारी

Latehar : लोकायुक्त  झारखंड की अदालत में स्थानीय समाजसेवी रवि कुमार डे के द्वारा सदर अनुमंडल पदाधिकारी जय प्रकाश झा के उपर भ्रष्टाचार का आरोप लगा कर शिकायतवाद दायर कराया गया है. दायर शिकायतवाद में वादी ने बताया है कि श्री झा कोयला एवं राशन माफियाओं से नाजायज वसूली करते हैं और भ्रष्टाचार में पूर्णरूपेण लिप्त हैं.

इसे भी पढ़ें : गर्मी में बिजली के लिये मचेगा हाहाकार, सेंट्रल और निजी कंपनियों के रहमोकरम पर झारखंड की बिजली

hosp3

राशन माफियाओं से सांठगांठ करके ऑफ लाइन दुकानों को बढ़ावा दे रहे हैं

श्री डे सरकारी प्रावधानों के विपरित सरकारी राशि को नीजि बैंक में रखने के मामले को गंभीरता से लेते हुए शिकायतवाद में बताया है कि श्री झा अनुमंडल पदाधिकारी के अलावा यहां कई पदों पर हैं. जिला आपूर्ति पदाधिकारी के पद पर रहते हुए राशन माफियाओं से सांठगांठ करके ऑफ लाइन दुकानों को बढ़ावा दे रहे हैं.

शिकायतवाद में यह भी आरोप लगाया गया है कि एसडीओ अपने अदालत में कार्य करते हैं, लेकिन कार्यालय वेश्म में कार्य नहीं करते हैं, क्योंकि अदालती कार्यों से वे वसूली करवाते हैं. मालूम हो कि समाजसेवी श्री डे ने इसके पूर्व भी पूर्व अनुमंडल पदाधिकारी अनिल कुमार सिंह, जिला शिक्षा अधीक्षक करमा मिंज समेत कई अधिकारियों पर लोकायुक्त की अदालत में मुकदमा दायर करा चुके हैं.

इसे भी पढ़ें : दो दिन पहले झारखंड और बंगाल के लिए बनाये गये विशेष पर्यवेक्षक केके शर्मा को चुनाव आयोग ने भेजा…

मैंन शपथ पत्र दायर किया है : डे

समाजसेवी श्री डे ने इस संबंध में पूछे जाने पर बताया कि सदर एसडीओ श्री झा के भ्रष्टाचार में लिप्त रहने के आरोपों को वे हलफनामा दायर कर के लोकायुक्त के न्यायालय में दाखिल कराया है और जांच में सहयोग करने का वचन भी दिया है.

इसे भी पढ़ें : हजारीबाग में 250 बोरा डोडा पोस्त जब्त, तस्कर फरार

मुझे कोई सूचना नहीं है : एसडीओ

उपरोक्त संबंध में पूछे जाने पर सदर एसडीओ श्री झा ने बताया कि लोकायुक्त की अदालत में उनके उपर कोई शिकायतवाद दायर हुआ है, इसकी उन्हें कोई जानकारी नहीं है. श्री झा ने आगे बताया कि इस संबंध में उन्हें कोई सूचना नहीं मिली है.

इसे भी पढ़ें : डीके तिवारी सीएस, सुखदेव सिंह विकास आयुक्त और केके खंडेलवाल को वित्त विभाग देना तय, नोटिफिकेशन जल्द!

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: