JharkhandLead NewsRanchi

लिंग आधारित भेदभाव को ख़त्म करने के लिए सामुदायिक भागीदारी आवश्यक: प्रशांत कुमार

Ranchi : ग्रामीण विकास सचिव प्रशांत कुमार ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि सरकार के सभी विभागों के साथ समन्वय बना कर कार्य करें और लैंगिक हिंसा के खिलाफ ‘नई चेतना अभियान को सफल बनाने में अपना शत प्रतिशत योगदान दें. उन्होंने अभियान की नियमित मॉनिटरिंग और लैंगिंक भेदभाव के खिलाफ एक अंतर्विभागीय राज्य समिति की गठन का निर्देश भी दिया. वह आज एफएफपी बिल्डिंग सभागार में लैंगिक हिंसा के खिलाफ “नई चेतना अभियान” पर अंतर्विभागीय समन्वय बैठक में बोल रहे थे।

मनरेगा आयुक्त सह मुख्य कार्यकारी अधिकारी, JSLPS  राजेश्वरी बी, द्वारा अभियान के उद्देश्य एवं  पृष्ठ्भूमि को साझा किया गया. उन्होंने अभियान पर जागरुकता फ़ैलाने के साथ-साथ, लिंग आधारित हिंसा के रोकथाम पर जोर दिया और अन्य विभाग को आगे आकर अभियान को सफल बनाने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि अभियान को सफल बनाने के लिए समाज के सभी लोगों की भागीदारी जरूरी है. महिलाओं के खिलाफ भेदभाव एवं शोषण की पहचान होनी चाहिए.

राजेश्वरी बी ने सभी विभागों की भूमिका को पारदर्शी बनाने की बात कही एवं विभिन्न गतिविधि और ट्रेनिंग पर चर्चा की. उन्होंने ट्रांसजेंडर के लिए भी काम करने की बात कही. ट्रांसजेंडर और बुजुर्गों के लिए आईईसी सामग्री विकसित करने पर बात हुई.

बता दें कि राज्य भर में 25 नवंबर से 23 दिसम्बर तक लिंग आधारित भेदभाव के खिलाफ ‘नई चेतना’ अभियान चलाया जा रहा है. ग्रामीण विकास विभाग द्वारा क्रियान्वित इस अभियान में सखी मण्डल की महिलाओं द्वारा कई गतिविधियों के जरिए ग्रामीणों को जागरूक किया जा रहा है.

जेंडर जस्टिस सेंटर

लिंग आधारित भेदभाव के खिलाफ महिलाओं काउंसिलिंग और तत्काल मदद के लिए जेंडर जस्टिस सेण्टर की शुरुआत की गयी है. जिसका उद्घाटन 25 नवंबर को किया गया. राज्य के 5 जिलों में ( गुमला, लोहरदगा, खूंटी, सिमडेगा और पश्चिम सिंहभूम ) 16 जस्टिस जेंडर सेण्टर की शुरुआत की गयी  है. अभियान की नियमित मॉनिटरिंग के लिए एक राज्य समिति की गठन की बात हुई है.

बैठक में मनरेगा आयुक्त राजेश्वरी बी,  बिष्णु सी परिदा, मुख्य संचालन अधिकारी, JSLPS, पूर्णिमा मुख़र्जी, प्रभारी राज्य कार्यक्रम प्रबंधक, सामाजिक विकास, JSLPS के राज्य कर्मी एवं अन्य विभाग के अधिकारी मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें – Breaking : बीआइटी छात्रा की मौत के मामले में आरोपी पीयूष तिवारी आरा से गिरफ्तार

Related Articles

Back to top button