JharkhandRanchiSports

राष्ट्रमंडल खेल : PM मोदी के प्रोत्साहन से हॉकी खिलाड़ी सलीमा को मिला था जीत का जज्बा

Ranchi: इंग्लैंड में चल रहे राष्ट्रमंडल खेल में भाग लेने से पहले झारखंड की महिला हॉकी खिलाड़ी सलीमा टेटे से पीएम नरेंद्र मोदी ने बात की थी. उन्हें प्रोत्साहित किया था. इससे सलीमा और दूसरे महिला हॉकी खिलाड़ियों में जीत का जज्बा बना रहा था. भारतीय महिला टीम ने आज जो कांस्य पदक हासिल किया, उसमें इस जज्बे ने भी फर्क डाला. आज खेले गए मैच में न्यूजीलैंड को  पेनाल्टी शूटआउट में 2-1 से पराजित कर पहली बार कांस्य पदक पाया. मैदानी खेल में दोनों ही टीमें एक-एक गोल की बराबरी पर थीं. भारतीय महिला हॉकी टीम की ओर से 29वें मिनट में सिमडेगा (झारखंड) की सलीमा टेटे ने एक शानदार गोल कर भारतीय टीम को बढ़त दिला दी थी.

तीन झारखंडी खिलाड़ियों का दिखा टैलेंट

आज खेले गए मैच मैच में तीसरे क्वार्टर तक भारत 1-0 से आगे रहा लेकिन अंतिम क्वार्टर में न्यूजीलैंड ने बराबरी कर मैदानी खेल की समाप्ति पर स्कोर 1-1 की बराबरी पर ले लाया. बाद में इनका निर्णय पेनाल्टी शूट आउट से हुआ जिसमें भारतीय टीम ने बढ़त बनाते हुए 2-1 से मैच जीतकर इतिहास में पहली बार कांस्य पदक पर कब्जा जमाया.16 वर्षों के बाद राष्ट्रमंडल खेल में हॉकी में महिला टीम को पदक प्राप्त हुआ.इससे पूर्व 2002 में भारतीय महिला हॉकी की टीम ने राष्ट्रमंडल खेल में स्वर्ण पदक और 2006 में रजत पदक प्राप्त किया था. कांस्य पदक जीतने वाली भारतीय टीम में झारखंड के तीन खिलाड़ी खूंटी जिले की निक्की प्रधान, सिमडेगा से सलीमा टेटे और  संगीता कुमारी शामिल थीं. तीनों खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया. पूरी प्रतियोगिता में संगीता कुमारी ने एक गोल और सलीमा टेटे ने तीन गोल किए. दोनों ही खिलाड़ियों के खेल को दर्शकों और कॉमेंटेटर ने काफी सराहा. टीम की डिफेंडर निक्की प्रधान ने भी शानदार खेल का प्रदर्शन किया.

भारतीय टीम के कांस्य पदक जीतने पर हॉकी झारखंड के अध्यक्ष भोलानाथ सिंह के अलावा विजय शंकर सिंह, मनोज कोनबेगी, अश्रिता लकड़ा, रजनीश कुमार सहित झारखंड के समस्त पदाधिकारियों ने बधाई दी है.

Sanjeevani

इसे भी पढ़ें : लोहरदगा में खुला राज्य का पहला सेंट्रलाइज किचन, बच्चों को मिलेगा Mid Day Meal

Related Articles

Back to top button