न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

खूंटी में भय मुक्त चुनाव संपन्न कराये आयोग: जनाधिकार महासभा

269

Ranchi: झारखंड जनाधिकार महासभा और आदिवासी अधिकार मंच के प्रतिनिधियों ने मंगलवार को राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से मुलाकात की. इस दौरान कार्यकर्ताओं ने खूंटी विशेष कर पत्थलगड़ीवाले इलाकों में स्वतंत्र पर्यवेक्षक की निगरानी में चुनाव संपन्न कराने की मांग की. साथ ही निर्वाचन पदाधिकारी को जानकारी दी गई कि खूंटी के गांवों में स्थानीय प्रशासन व सुरक्षा बलों की ओर से किये जा रहे भयादोहन से लोगों में भय है. जिससे स्वतंत्र और निष्पक्ष मतदान पर असर पड़ सकता है. दल ने यह भी कहा कि पूरे राज्य में स्थानीय प्रशासन और पुलिस की ओर से चुनाव आचार संहिता के नाम पर लोगों को उनके मुद्दों व समस्याओं पर चर्चा करने से रोका जा रहा है.

इसे भी पढ़ें – भारतीय सेना की बहाली के दौरान फर्जी कागजात के साथ पकड़े गए 40 अभ्यर्थी, हो सकता है बड़े रैकेट का पर्दाफाश

आचार संहिता के साथ बढ़ता जा रहा 144 का प्रचलन

इस दौरान कार्यकर्ताओं ने कहा कि आचार संहिता लागू होने के साथ-साथ धारा 144 लागू करने का प्रचलन बढ़ता जा रहा है. लोगों को समाजिक मुद्दों पर बात करने से भी रोका जा रहा है. उन पर प्राथमिकी दर्ज की जा रही है. ऐसा गैर राजनितिक दलों को रोकने के लिए किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें – पिछले पांच वर्षों में देश ने की है बहुत तरक्की, जल्द होंगे विकसित देशों की श्रेणी में शामिल : डॉ शास्वत

इन मांगों से संबधित मेमोरेंडम दिया

  • खूंटी लोकसभा की असाधारण परिस्थिति के परिप्रेक्ष में चुनाव स्वतंत्र पर्यवेक्षक के निरीक्षण में करवाये जायें
  • चुनाव के दौरान अबतक दर्ज प्राथमिकियों पर लोगों को गिरफ्तार नहीं किया जाये
  • विद्यालयों से पुलिस छावनियों को हटाया जाये
  • खूंटी में पुलिसिया दमन पर आयोग रोक लगाये
  • जिला प्रशासन को निर्देश दिये जायें कि वे लोगों को आचार संहिता की गलत जानकारी न दे
  • जिन जिलों और प्रखंडों में आचार संहिता के साथ धारा 144 लागू है उसे जल्द से जल्द हटाया जाये

ये थे उपस्थित

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से मुलाकात के दौरान आलोका, भारत भूषण चौधरी, स्टेन स्वामी, अशोक वर्मा, कल्याण नाग, सुषमा बिरुली, समुएल पूर्ती, बासिंह मुंडा, सिराज, विवेक समेत अन्य उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें – हेमंत सोरेन का स्थायी पता पूछनेवाली बीजेपी पर जेएमएम का पलटवार, कहा ‘खौफ में भाजपा नेता, कर रहे मूर्खतापूर्ण सवाल’

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
क्या आपको लगता है हम स्वतंत्र और निष्पक्ष पत्रकारिता कर रहे हैं. अगर हां, तो इसे बचाने के लिए हमें आर्थिक मदद करें.
आप अखबारों को हर दिन 5 रूपये देते हैं. टीवी न्यूज के पैसे देते हैं. हमें हर दिन 1 रूपये और महीने में 30 रूपये देकर हमारी मदद करें.
मदद करने के लिए यहां क्लिक करें.-

you're currently offline

%d bloggers like this: