HEALTHJharkhandNEWS

सराहनीय पहल: अब प्लाज्मा बैंक बनाने की तैयारी

कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज में होगा सहायक

Ranchi: वैश्विक महामारी कोरोना पर नियंत्रण पाने के लिए सरकारी तंत्र के अलावा निजी स्तर पर भी प्रयास जारी है. कोरोना संक्रमण के वार से पार पाने के लिए सरकारी और गैर सरकारी स्तर पर अब प्लाज्मा बैंक बनाने की दिशा में पहल की जा रही है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए प्लाज्मा का इंतजाम करने हेतु सरकार प्लाज्मा बैंक बनाने की दिशा में प्रयासरत है. जानकारी के अनुसार इस संबंध में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने मुख्य सचिव और स्वास्थ्य सचिव सहित स्वास्थ्य विभाग के कई आला अधिकारियों और चिकित्सकों से विचार-विमर्श किया है. इसके अलावा रेडक्रॉस सोसाइटी और इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आइएमए) से संपर्क कर रायशुमारी की गई है.

स्वयंसेवी संगठनों से भी आगे आने की अपील

गौरतलब है कि वर्तमान परिस्थितियों में कोरोना के इलाज में प्लाज्मा की जरूरत अधिक महसूस की जा रही है. इसके लिए राज्य सरकार ने स्वयंसेवी संगठनों से भी आगे आने की अपील की है. स्वास्थ्य विभाग को संक्रमित मरीजों की सूची तैयार करने का निर्देश दिया गया है.  जो मरीज कोरोना संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं, वैसे लोगों की सूची तैयार की जाएगी. इन लोगों से एक माह के बाद फोन पर संपर्क कर स्वस्थ रहने पर प्लाज्मा दान करने की अपील की जाएगी.

इसे भी पढ़ें: Hazaribagh एनएच 33 में एम्बुलेंस पलटी, छः लोग घायल

प्लाज्मा डोनेट करने वाले लोगों का व्हाट्सएप ग्रुप भी बनाया जाएगा

प्लाज्मा डोनेट करने वाले लोगों का व्हाट्सएप ग्रुप भी बनाया जाएगा. जानकारी के मुताबिक जिन जरूरतमंदों को प्लाज्मा की आवश्यकता होगी, उन्हें प्लाज्मा बैंक से प्लाज्मा मुहैया कराया जाएगा. इस संबंध में प्लाज्मा दान के लिए इच्छुक कोरोना संक्रमण से मुक्त हो चुके लोगों से आगे आने की अपील की गई है. बताया जाता है कि जल्द ही सरकार इस दिशा में कदम उठाएगी. ब्लड बैंक की तर्ज पर प्लाज्मा बैंक के माध्यम से पीड़ितों को प्लाज्मा उपलब्ध कराया जाएगा.

इसे भी पढ़ें: Good News : क्रिकेटर धौनी के माता-पिता कोरोना से उबरे, मिली अस्पताल से छुट्टी

जानकारी के मुताबिक इस संबंध में वॉलंटरी ब्लड डोनर्स एसोसिएशन, रेड क्रॉस सोसाइटी सहित अन्य स्वयंसेवी संगठनों ने भी सहमति जताते हुए राज्य सरकार को यथोचित सहयोग करने का आश्वासन दिया है. यदि यह पहल धरातल पर उतरी, तो इससे काफी हद तक कोरोना संक्रमित मरीजों को राहत मिलेगी.

इसे भी पढ़ें: Corona: देश में पहली बार 24 घंटे में मृतकों की संख्या 3000 के पार, अब तक दो लाख से अधिक की मौत

 

Related Articles

Back to top button