National

ड्रग्स मामले में कॉमेडियन भारती सिंह, पति हर्ष लिम्बाचिया 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजे गये

शनिवार को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने भारती सिंह के प्रोडक्शन ऑफिस और घर पर छापा मारा था,  दोनों जगहों से 86.5 ग्राम गांजा बरामद किया गया था.  बताया गया कि दोनों ने गांजा का सेवन करना भी स्वीकार किया था.

MumbaI : ड्रग्स रखने के आरोप में गिरफ्तार मशहूर महिला कॉमेडियन भारती सिंह और पति हर्ष लिम्बाचिया को आज रविवार को जेल भेज दिये जाने की खबर है.  एस्प्लेनेड कोर्ट ने 14 दोनों की न्यायिक हिरासत में दोनों को भेज दिया है. शनिवार को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने भारती सिंह के प्रोडक्शन ऑफिस और घर पर छापा मारा था,  दोनों जगहों से 86.5 ग्राम गांजा बरामद किया गया था.  बताया गया कि दोनों ने गांजा का सेवन करना भी स्वीकार किया था.

Jharkhand Rai

भारती सिंह और पति हर्ष  दोनों को कोर्ट में पेश करने से पहले नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने इनका मेडिकल करवाया.  नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो, मुंबई के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े ने बताया कि उनके खिलाफ दवाओं के सेवन के आरोप लगाये गये हैं.

इसे भी पढ़ें : जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में मारे गये आतंकी कमांडो ट्रेनिंग पाये हुए थे, 30 किमी चल कर सांबा बॉर्डर पहुंचे थे, जांच में आया सामने…

उन्हें जेल नहीं, नशा मुक्ति केंद्र भेजना चाहिए

जान लें कि भारती सिंह के मुंबई स्थित आवास पर एनसीबी ने शनिवार को छापा मारा था. उनके घर से गांजा मिला था. इसके बाद एनसीबी ने भारती के पति हर्ष लिम्बाचिया को रविवार को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया था. इस मामले में महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक ने कहा कि एनसीबी उन लोगों को गिरफ्तार कर रही है जो ड्रग्स लेते हैं. वे एडिक्टेड हैं. उन्हें जेल नहीं, नशा मुक्ति केंद्र भेजना चाहिए.

Samford

कहा कि एनसीबी का काम ड्रग्स स्मगलर को पकड़ना है, लेकिन उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है. आरोप लगाया कि क्या एनसीबी नशा करने वाले फिल्मी सितारों को गिरफ्तार कर स्मगलरों को बचा रही है?

इससे पहले सुशांत सिंह राजपूत की गर्लफ्रेंड रही रिया चक्रवर्ती को 9 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था, बाद में जमानत मिलने पर रिहा कर दिया गया था.   इस महीने की शुरुआत में अभिनेता अर्जुन रामपाल और फिल्म निर्माता फिरोज नाडियाडवाला के घर पर भी ड्रग्स की जांच के सिलसिले में एजेंसी द्वारा छापेमारी की गयी थी.

इसे भी पढ़ें : अयोध्या : राम मंदिर के लिए चार लाख गांवों के 11 करोड़ परिवार करेंगे आर्थिक सहायता, ट्रस्ट ने जारी किया दिशा-निर्देश 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: