न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कोचांग घटना ने समाज को किया शर्मसार, जल्द हो आरोपियों की गिरफ्तारी : वनवासी कल्याण केंद्र

कोचांग घटना के दोषियों को अविलंब गिरफ्तार करने किया जाए

379

 Ranchi: 19 जून को खूंटी जिले के अड़की स्थिति कोचांग में जो घटना घटी, उसने ना सिर्फ समाज को शर्मसार कर दिया बल्कि सफेदपोशों को भी सोचने पर मजबूर कर दिया. कोचांग में हुए रेपकांड के दोषियों को अविलंब गिरफ्तार करने तथा न्यायालय के माध्यम से फांसी की सजा दिलाने की मांग को लेकर वनवासी कल्याण केंद्र महिला मंच की ओर से राजभवन के समक्ष धरना दिया गया. इस दौरान मंच के सदस्यों ने एक स्वर में दोषियों को अविलंब गिरफ्तार करने की मांग की. साथ ही राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू को घटना के संबंध में ज्ञापन सौंपा.

इसे भी पढ़ें- खूंटी गैंगरेपः कोचांग में उस दिन क्या हुआ था, जानिए उनलोगों से जो घटना के वक्त मौजूद थे,…

उल्लेखनीय है कि कोचांग में मिशन संचालित विद्यालय परिसर से दिनदहाड़े सैकड़ों विद्यार्थियों और शिक्षकों के सामने ही अपराधी पांच युवतियों और उनके साथियों को उठाकर ले गए थे. अपराधियों ने लड़कियों को बंधक बनाय़ा और उसी दिन मुक्त भी कर दिया था. अपराधियों के चंगुल से छूटते ही लड़कियों ने रेप होने का खुलासा किया था.

इसे भी पढ़ें- घोषणा कर भूल गयी सरकारः 13 जुलाई – सर, यह अंब्रेला स्कीम क्या होती है, जो अब तक लागू ही नहीं…

बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ का नारा सिर्फ ढोंग

वनवासी कल्याण केंद्र महिला मंच की सदस्य नूतन पांडे ने कहा की सरकार सिर्फ बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ की बात करती है. जबकि परिस्थिति इसके विपरीत है. आज समाज की बेटियां अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रही हैं. कोचांग की घटना ने पूरे समाज को शर्मसार किया है. अब तक दोषियों की गिरफ्तारी नहीं होना प्रशासनिक विफलता को भी दर्शाता है. उन्होंने कहा कि हम इस धरना के माध्यम से मांग करते हैं कि दोषियों को अविलंब गिरफ्तार किया जाए. उन्होंने कहा कि न्यायालय के माध्यम से त्वरित कार्रवाई करते हुए अविलंब फांसी की सजा सुनाई जाए.

इसे भी पढ़ें – संसद के मॉनसून सत्र में संथाली में भी दे सकेंगे भाषण, आठवीं अनुसूची में शामिल सभी 22 भाषाओं के…

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.


हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Open

Close
%d bloggers like this: