न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सीएम संयमित भाषा का करें प्रयोग, बाबूलाल के नाम से नींद हराम हो गयी है भाजपाइयों की: योगेन्द्र प्रताप

250

Ranchi: झारखंड विकास मोर्चा के केन्द्रीय प्रवक्ता योगेन्द्र प्रताप ने कहा है कि झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने लोकसभा चुनाव में भाजपा की संभावित दुर्गति को देख कर आपा खो दिया है. चुनाव के बाद इनकी मुख्यमंत्री की कुर्सी जानी तय है. इसी बौखलाहट में वे अनाप-शनाप भाषा का प्रयोग कर रहे हैं. बाबूलाल मरांडी राज्य के सर्वाधिक लोकप्रिय व सम्मानित नेता हैं. बाबूलाल पर अमर्यादित टिप्पणी करना सीएम के राजनीतिक संस्कार का परिचायक है. रघुवर दास द्वारा बाबूलाल मरांडी के खिलाफ कोढ़ जैसी अलोकतांत्रिक भाषा में की गयी टिप्पणी यह दर्शाती है कि भाजपा का वर्तमान राजनीतिक संस्कार कैसा हो चला है.

इसे भी पढ़ें – अब तक झारखंड में नहीं लागू हो सका सवर्ण आरक्षण, सीएम रघुवर दास की घोषणा के बीते 120 दिन

बाबूलाल का नाम जपे बगैर नींद नहीं आती

उन्होंने कहा कि आज की नरेन्द्र मोदी की अगुवाई वाली भाजपा अटल-आडवाणी की भाजपा से कितनी बदल चुकी है. जिस दल के प्रधानमंत्री की ही भाषा अमर्यादित हो, उसके मुख्यमंत्री से मर्यादित भाषा की उम्मीद भी बेमानी है. जो व्यक्ति लोकतंत्र के मंदिर के अंदर में जनप्रतिनिधियों को गाली दे सकता है, उससे भला लोगों को कैसी भाषा की अपेक्षा होगी. मुख्यमंत्री की कुर्सी पा लेने भर से कोई बाबूलाल मरांडी नहीं बन जाता है. दरअसल बाबूलाल मरांडी के नाम से ही भाजपा को मिर्ची लगती है. बाबूलाल मरांडी का नाम जपे बगैर इन्हें नींद नहीं आती है. बाबूलाल को कम-से-कम भाजपा नेताओं से प्रमाणपत्र की जरूरत नहीं है. केन्द्रीय प्रवक्ता ने आगाह करते हुए कहा कि रघुवर दास, सत्ता का अहंकार अच्छा नहीं होता है और यह किसी की बपौती भी नहीं होती है. सत्ता आनी-जानी है परंतु भाषा ऐसी हो कि कल जब नजर मिले तो नजर झुकानी नहीं पड़े.

इसे भी पढ़ें – देवघर : पीएम की सुरक्षा में चूक, सभास्थल के पास गोलि‍याें के साथ पहुंचा युवक, पकड़ाया

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: