Crime News

भ्रष्ट पुलिसकर्मियों के खिलाफ सीएम की 12 दिनों के अंदर दूसरी बड़ी कार्रवाई, अलकडीहा ओपी प्रभारी सीएम के आदेश पर हुए निलंबित

Ranchi: घूसखोर पुलिसकर्मियों के खिलाफ सीएम हेमंत सोरेन ने 12 दिन के अंदर दूसरी बड़ी कार्रवाई की है. बुधवार को घूस लेते हुए अलकडीहा ओपी प्रभारी ललन प्रसाद का वीडियो वायरल हुआ. इस मामले को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कार्रवाई का निर्देश दिया.

सीएम के निर्देश के बाद धनबाद के एसएसपी ने कारवाई करते हुए अलकडीहा ओपी प्रभारी ललन प्रसाद को निलंबित कर दिया.

इसे भी पढ़ें – पेमेंट नहीं होने पर आंदोलन की तैयारी में ठेकेदार, मांगा CM से मिलने का समय

क्या है मामला

झरिया के अलकडीहा थाना प्रभारी ललन प्रसाद का घूस लेने का वीडियो वायरल हुआ था. वीडियो में दिख रहा है कि उनके सामने टेबल पर दो महिलाओं द्वारा रुपये रखे जा रहे हैं. वीडियो में साफ दिख रहा था कि थाना प्रभारी पैसे ले रहे हैं.

साथ ही वे इस बात की हिदायत भी दे रहे हैं कि अगली बार अगर कम पैसे लाये तो जेल में बंद कर दूंगा. थाना प्रभारी ने केस मैनेज करने के लिए पैसे लिये थे. बता दें कि अलकडीहा थाना क्षेत्र में दो महिलाओं के आपस का विवाद थाना पहुंचा था.

दोनों महिलाओं ने एक दूसरे के खिलाफ लिखित शिकायत थाने में की थी. इस मामले में एक सामाजिक कार्यकर्ता ने थाना पहुंच कर समझौता कराने की थाना प्रभारी से अपील की थी. अलकडीहा थाना प्रभारी ने दोनों महिलाओं से केस मैनेज करने के एवज में 5 – 5 हजार रुपये बतौर घूस मांगी थी.

घूस की पूरी रकम देने के बाद ही माने थाना प्रभारी

थाना प्रभारी के फरमान के बाद दोनों महिलाएं घूस की रकम का जुगाड़ करने में जुट गयीं. किसी ने टीवी गिरवी रख कर पैसे का जुगाड़ किया, तो किसी ने उधार मांगा. रुपये फिर भी पूरे नहीं हुए. सामाजिक कार्यकर्ता जब घूस की रकम लेकर थाना पहुंचे तो प्रभारी ललन प्रसाद भड़क गये और दोनों पर केस करने की धमकी देने लगे. जिसके बाद दोनों ने हाथ जोड़ कर प्रभारी से गुहार लगायी कि अब ऐसा नहीं होगा. बावजूद इसके थाना प्रभारी नहीं माने. बताया जाता है कि घूस की पूरी रकम देने के बाद ही वे माने. इसको लेकर एक वीडियो बुधवार को वायरल हो गया था.

इसे भी पढ़ें – #Arvind_Kejriwal दिल्ली के सीएम पद की शपथ 16 फरवरी को लेंगे, रामलीला मैदान में होगा समारोह  

दुमका में सीएम के आदेश पर निलंबित हुए थे 6 पुलिसकर्मी

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा नाराजगी जताये जाने पर अवैध रूप से वसूली करने के आरोप में दुमका एसपी ने बीते 31 जनवरी को एक एसआइ सहित छह पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया था. एसपी वाइएस रमेश ने हंसडीहा थाना के एसआइ रामजीवन राय, हवलदार कुमोद चौधरी एवं जवान मुकेश दास और जामा थाना से जवान संजय कुमार, जलेन्द्र कुमार एवं मुकेश कुमार राय को निलंबित कर दिया. दोनों थाने के पुलिसकर्मी अवैध वसूली कर रहे थे. तभी किसी ने इसका वीडियो बना कर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के ट्वीट पर डाल दिया. इस पर मुख्यमंत्री ने मामले का संज्ञान लेकर एसपी को कार्रवाई करने का निर्देश दिया था.

इसे भी पढ़ें – दिल्ली चुनाव : #Public-Rejected_Congress, पी चिदंबरम खुश, शर्मिष्ठा मुखर्जी का सवाल, AAP की जीत पर हम जश्न क्यों मना रहे हैं?

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close