न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सीएम का आदेश हुआ फेल, 72 घंटे होने के बाद भी नहीं पकड़े गए नरेंद्र सिंह होरा के हत्यारे

139

Ranchi: सीएम के द्वारा डीजीपी और गृह सचिव को 72 घंटे के अंदर नरेंद्र सिंह होरा के हत्या करने वाले  अपराधियों को गिरफ्तार करने का दिया गया आदेश फेल हो गया है. चावल व्यवसायी नरेंद्र सिंह होरा के हत्यारों को गिरफ्तार करना तो दूर की बात रही, अपराधियों की पहचान तक पुलिस नहीं कर पायी है.

सीएम ने क्‍या दिया था आदेश

पिछले सप्ताह शनिवार को सीएम रघुवर दास ने व्यवसायी नरेंद्र सिंह होरा के बेटे रूपेंद्र सिंह होरा से बात कर संवेदन व्यक्त की थी. उन्होंने आश्वासन दिया था कि किसी भी कीमत पर अपराधी नहीं बचेंगे. सीएम ने डीजीपी और गृह सचिव को 72 घंटे के अंदर अपराधियों को गिरफ्तार करने का आदेश दिया था. इस आदेश के बाद सीआईडी एडीजी अजय सिंह ने खुद जांच की कमान संभाल ली, लेकिन अपराधी नहीं पकड़े जा सके हैं.

hosp1

इसे भी पढ़ें: नरेंद्र सिंह होरा हत्याकांड : चैंबर सदस्य सीएम से मिले, सीएम ने कहा- जल्द होगी अपराधियों की गिरफ्तारी

एक लाख रुपए इनाम देने की गई थी घोषणा

रांची पुलिस के द्वारा नरेंद्र सिंह होरा हत्यारों की सूचना देने वालों को एक लाख रुपए ईनाम देने की घोषणा भी कर रखी थी. कहा गया था कि सूचना देने वाले की पहचान गुप्त भी रखी जाएगी. अभी तक पुलिस को कुछ भी जानकारी हाथ नहीं लग पायी है. पुलिस का दावा है कि जल्द ही नरेंद्र सिंह होरा के हत्या करने में शामिल अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

इसे भी पढ़ें – पाकुड़ समाहरणालय से लेकर तमाम शहर में डीसी के खिलाफ आजसू की पोस्टरबाजी, कहा – डीसी साहब जनता के सवालों का दें जवाब

पुलिस के आला अधिकारियों ने किया था घटनास्थल का जांच

चावल व्यवसायी नरेंद्र सिंह होरा को जिस जगह गोली मारी गई थी. उस घटनास्थल की सीआईडी के एडीजी अजय कुमार सिंह, आईजी नवीन कुमार सिंह, डीआईजी एवी होमकर ने रविवार को घटनास्थल का निरीक्षण भी किया था और जांच को लेकर पुलिस को कई निर्देश दिये थे. उन्होंने पुलिस अधिकारियों के साथ इस मामले को लेकर बैठक भी की थी. दूसरी ओर रांची पुलिस अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापामारी कर रही है.

इसे भी पढ़ेंःकोर्ट, पीएमओ, राष्ट्रपति, सीएम, मंत्रालय, नीति आयोग और कमिश्नर किसी की परवाह नहीं है कल्याण विभाग को

100 से ज्यादा अपराधियों से की गई थी पूछताछ

नरेंद्र सिंह होरा के हत्यारों को पकड़ने के लिए रांची पुलिस ने विभिन्न इलाकों से जमानत पर छूटे 100 से ज्यादा अपराधियों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर चुकी है. हालांकि पूछताछ में किसी ने अपनी संलिप्तता स्वीकार नहीं की है. अब पुलिस होरा के कर्मचारियों से भी पूछताछ कर रही है.

हत्या के विरोध में लोगों ने किया था रोड जाम

चावल व्यवसायी नरेंद्र सिंह होरा के हत्या के विरोध में सिख समुदाय और व्यापारी वर्ग के लोगों ने सुजाता चौक के पास रोड को लगभग तीन घंटे तक जाम करके रखा था. सीएम रघुवर दास के द्वारा मृतक के बेटे से बात करने के बाद और अपराधियों के गिरफ्तारी का आश्वासन देने के बाद लोग जाम पर से उठे थे.

5 अक्टूबर को हुई थी हत्या

बता दें कि 5 अक्टूबर की रात के 9:15 में चावल व्यवसायी नरेंद्र सिंह होरा की हत्या रोस्पा टावर के समीप तीन अपराधियों ने गोली मार कर दी थी. अपर बाजार स्थित दुकान से वह स्कूटी से अपने पीपी कंपाउंड स्थित घर लौट रहे थे. इसी दौरान बाइक सवार तीन अपराधियों ने घटना को अंजाम दिया था.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: