NEWS

उपचुनाव के लिए सीएम ने संभाला मोर्चा, कई योजनाओं का किया उद्घाटन, लोगों की सुनी समस्या

Ranchi. प्रदेश की दो सीटों ( दुमका और बेरमो ) पर होने वाले उपचुनाव को जीतने के लिए सभी राजनीतिक दल जोर लगा रहे हैं. सत्तारूढ़ दल झारखंड मुक्ति मोर्चा और कांग्रेस के शीर्ष नेता पिछले कई दिनों से इन क्षेत्रों के दौरे पर हैं. बीते दिनों कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष डॉ रामेश्वर उरांव ने बेरमो के दौरे पर थे. वहीं, अब जेएमएम के कार्यकारी अध्यक्ष और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पिछले तीन दिनों से दुमका दौरे पर हैं. दावा किया जा रहा है कि दुमका उपचुनाव में जेएमएम इस बार पार्टी सुप्रीमो शिबू सोरेन के छोटे बेटे बंसत सोरेन को अपना उम्मीदवार बनाएगी. ऐसे में मुख्यमंत्री अपने भाई की जीत सुनिश्चित करने के लिए पूरी एड़ी चोटी एक कर दिये हैं. 

इसे भी पढ़ें- भारत-चीन के बीच स्थिति तनावपूर्ण: केन्द्र सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, कई गंभीर मुद्दों पर हो सकती है चर्चा

advt

आदिवासी संस्कृति और पूजा पाठ में शामिल हो रहे सीएम

अपने दुमका दौरे में सीएम क्षेत्र की जनता से लगातार मिल रहे हैं. आदिवासी संस्कृति और पूजा पाठ में शामिल होकर मुख्यमंत्री ने यह बता दिया है कि क्षेत्र की जनता से उनका काफी लगाव है. क्षेत्र के प्रबुद्ध लोगों से मिल मुख्यमंत्री सोरेन ने उनकी समस्याओं को सुना और जल्द ही उनके निदान का आश्वासन भी दिया. सीएम ने उन्हें बताया कि वे आज मुख्यमंत्री बन सके हैं, तो वह केवल उन्हीं के बदौलत. लोगों से रूबरू होने के दौरान सीएम ने उनसे संथाली भाषा में ही बात की. 

स्वास्थ्य योजनाओं से जुड़े कई योजनाओं का उद्घाटन

पूर्व में दुमका की भाजपा विधायक के क्रियाकलापों का तो सीएम ने जिक्र नहीं किया. लेकिन अपने दौरे के दौरान कई योजनाओं का शिलान्यास कर यह बता दिया कि पिछले पांच सालों से यह क्षेत्र कई सुविधाओं से वंचित रहा है. अपने दौरे में सीएम ने क्षेत्र की सबसे बड़ी समस्या स्वास्थ्य सुविधाओं पर विशेष जोर दिया, सीएम ने दुमका मेडिकल कॉलेज में ऑपरेशन थिएटर व अल्ट्रासाउंड मशीन, कोविड-19 टेस्टिंग लैब का उद्घाटन किया. 

योजनाओं के लाभुकों के बीच परिसंपत्तियों का वितरण

adv

“जनता अपने द्वारा कार्यक्रम” के तहत सीएम सोरेन ने कई योजनाओं से जुड़े लाभुकों के बीच परिसंपतियों और स्वीकृति पत्र का वितरण भी किया. प्रधानी पट्टा का वितरण, मुख्यमंत्री सुकन्या योजना, निःशक्तों को श्रवण यंत्र का वितरण, बिरसा आवास और अंबडेकर आवास योजना, विधवा पेंशन और राज्य आदिम जनजाति पेंशन जैसी योजना से जुड़े लाभुकों को सीएम ने परिसंपत्तियों का वितरण किया. 

क्षेत्र के प्रबुंद्ध जनों के साथ मुलाकात के दौरान सीएम को कई समस्याओं की जानकारी दी गयी. सभी समस्याओं को सुन हेमंत ने भरोसा दिया कि सरकार जल्द ही इस पर विचार करेगी. अगर इस पर पहल होती है कि क्षेत्र के लोगों के बीच जेएमएम का विश्वास और बढ़ जाएगा. ऐसी मांगों में झारखंड उच्च न्यायायलय की बेंच को क्षेत्र में खोलना, विकास कार्यों को पूरा करने के लिए जिले में पदाधिकारियों और कर्मचारियों की नियुक्ति, बंद पड़े नर्सिंग शिक्षा केंद्र को खोलने, क्षेत्र के कई इलाकों जर्जर सड़कों की मरम्मति, शहर में बेहतर ड्रेनेज सिस्टम, रिटायर्ड शिक्षकों को छठे वेतनमान के लंबित लाभ आदि को पूरा करना है.

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button