JharkhandLead NewsRanchi

ऑक्सीजन के अभाव में राज्य में हुई मौत हुई की जानकारी दें सीएमः दीपक प्रकाश

Ranchi : भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद दीपक प्रकाश ने ऑक्सीजन से मौत मामले में राज्य सरकार पर हमला बोला है. सीएम से पूछा है कि राज्य में ऑक्सीजन के अभाव में कितने लोग मरे हैं, इसकी जानकारी सभी को दें. सरकार केवल थोथे बयानबाजी से जनता को गुमराह नहीं करे. केंद्रीय मंत्री ने लोकसभा और राज्यसभा में ऑक्सीजन से मौत पर जो बयान दिया है, वह देश के विभिन्न राज्य सरकारों से मिली रिपोर्ट के आधार पर दिया है.

किसी भी राज्य ने जिसमें कई कांग्रेस शासित सरकारें हैं, ने अपने राज्य में ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत की बात स्वीकार नहीं की है. स्वास्थ्य सेवा राज्य का विषय है.

इसलिए राज्य सरकार की रिपोर्ट को ही बयान में आधार बनाया गया है. झारखंड सरकार को अपनी रिपोर्ट बतानी चाहिए कि उनका आंकड़ा क्या है. केंद्र को भेजी रिपोर्ट सार्वजनिक हो.

इसे भी पढ़ें :‘#jssc_नियमावली में सुधार_करो’ हैशटैग के साथ बेरोजगार कर रहे विरोध

advt

मौत के लिए राज्य सरकार जिम्मेवार

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश भाजपा ने राज्य सरकार के कुप्रबंधन को पहले दिन से ही लगातार उजागर किया है. कोरोना संकट में लोग कैसे अस्पतालों में बेड के अभाव, आवश्यक दवाइयों की कमी, वेंटिलेटर की कमी, ऑक्सीजन की उपलब्धता, रेमडेसीविर इंजेक्शन आदि के विषय में सरकार का ध्यान आकृष्ट कराया है.

केंद्र सरकार ने हर संभव सहायता उपलब्ध करायी है. परंतु राज्य सरकार ने सुविधाओं के प्रबंधन की ओर कोई ध्यान नहीं दिया.

एक साल पूर्व स्वीकृत ऑक्सीजन प्लांट स्थापित नहीं किये गये. वेंटिलेटर को कबाड़ में फेंक दिया गया. राज्य सरकार का एकमात्र एजेंडा अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए केंद्र पर दोषारोपण रहा.

इसे भी पढ़ें :26 जुलाई तक होम सेंटर में लें मैट्रिक-इंटर की प्रैक्टिकल परीक्षाः जैक

टीकाकरण में भी फैलाया भ्रम

झारखंड में सिर्फ कोरोना के इलाज में लापरवाही नहीं बरती गयी बल्कि इसके बचाव के लिए चल रहे टीकाकरण अभियान पर भी भ्रम फैलाया गया. जानबूझ कर टीकों की बर्बादी की गयी. राज्य टीका बर्बादी में अव्वल राज्य बन गया. आपदा में भी राज्य सरकार जनता की सेवा के बजाए दोषारोपण में व्यस्त रही.

स्वास्थ्य सुविधा के बदले कफन बांटने का निर्णय लेती रही

आज ऑक्सीजन की कमी से मौत पर बयानबाजी करनेवाले वही लोग हैं जो केंद्र सरकार के द्वारा भेजे गये ऑक्सीजन ट्रेन को हरी झंडी दिखा रहे थे. पूरे कोरोना संकट में सिर्फ बयानबाजी करनेवाली सरकार सस्ती लोकप्रियता बटोरने में लगी रही है.

इसे भी पढ़ें :आजसू पार्टी ने सरकार पर लगाया वादाखिलाफी और सरकारी संसाधनों के दुरुपयोग का आरोप, लगातार चलायेगी आंदोलन

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: