न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मुख्यमंत्री जी अमर बाउरी को मंत्रिमंडल से करें बरखास्त: आरके आनंद

पूर्व राज्यसभा सांसद ने लिखा पत्र, सरकार की हो रही है किरकिरी

753

Ranchi: पूर्व राज्यसभा सांसद और झारखंड ओलंपिक एसोसिएशन के अध्यक्ष आरके आनंद अब खुल कर अमर कुमार बाउरी को हटाने को लेकर अपनी कमर कस ली है. उन्होंने मुख्यमंत्री रघुवर दास को पत्र लिख कर मंत्रिमंडल के सहयोगी अमर कुमार बाउरी को हटाने का आग्रह किया है. उन्होंने अपने पत्र में कहा है कि खेल मंत्री अमर बाउरी कई विवादों में घिरे हुए हैं. इसलिए, उन्हें तत्काल मंत्री पद से बरखास्त करते हुए उन पर कार्रवाई की जाये. उन्होंने कहा है कि सरकार के दो महत्वपूर्ण महकमे में मंत्री बने रहने से ये कई तरह के गलत कार्यों में संलिप्त रह रहे हैं. इतना ही नहीं कई न्यायालयों में उनके खिलाफ मामले विचाराधीन हैं, जिसकी वजह से सरकार की भी किरकिरी हो रही है.

इसे भी पढ़ें: किसकी वजह से हाइकोर्ट भवन निर्माण में हुई अनियमितता, कमेटी करेगी जांच, विभाग ने सीएम से मांगा अप्रूवल

आरके आनंद का पत्र

चुनाव के दौरान कई संदिग्ध गतिविधियों में भागीदारी

उन्होंने कहा है कि बोकारो के न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में जन प्रतिनिधित्व कानून के तहत 442 ऑफ 2014 अब तक लंबित है. न्यायिक दंडाधिकारी ने मामले पर संज्ञान लेते हुए कार्रवाई करने का निर्देश भी दिया था. इतना ही नहीं आईपीसी की धारा 174(ए) के तहत रेलवे एक्ट के बाबत प्राथमिकी भी दर्ज की गयी है. विधानसभा चुनाव के दौरान कई संदिग्ध गतिविधियों में भी इनकी भागीदारी रही है. यह लोकतंत्र के लिए बेहतर नहीं है.

चंदनकियारी के विधायक पर दल-बदल का भी मामला

इसे भी पढ़ें: जूली संग लिव इन के बाद लव गुरु मटुकनाथ करेंगे शादी, नयी प्रेमिका की तलाश

उन्होंने कहा है कि पैसे लेकर झारखंड विकास मोर्चा से निर्वाचित हुए श्री बाउरी ने भाजपा का दामन थाम लिया और मंत्री बन बैठे हैं. झारखंड विधानसभा में इनके खिलाफ अब भी विधानसभा अध्यक्ष के समक्ष दल-बदल मामला लंबित है. भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत इनके खिलाफ सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इनवेस्टीगेशन (सीबीआई) में भी एक शिकायतवाद दर्ज की गयी है. झारखंड सरकार में इन्हें कैबिनेट मंत्री का दरजा मिला हुआ है. ये राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग और खेलकूद तथा युवा कार्य मंत्रालय जैसे दो विभागों का जिम्मा भी संभाल रहे हैं. इससे राज्य भर में इनके द्वारा मंत्री पद का अनावश्यक लाभ भी कई मामलों में लिया जा रहा है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: