न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

साहेबगंज में बोले सीएम, सिद्धो-कान्हू से जुड़े आदिवासी परिवारों को देंगे हजार रुपये मासिक पेंशन  

सीएम ने भोगनाडीह में चौपाल लगाकर सुनीं लोगों की समस्याएं

303

Nirbhay Ojha

Sahibganj: राज्य के सीएम रघुवर दास रविवार को बरहेट विधानसभा के भोगनाडीह पहुंचे.सीएम के पहुंचते ही विधायक अनंत ओझा, विधायक ताला मरांडी, भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष हेमलाल मुर्मू के अलावा अन्य नेताओं ने उनका स्वागत किया. सीएम ने वहां सभा की और उस दौरान कहा कि सरकार नये साल में सुकन्या योजना शुरू करने जा रही है. इसके तहत राज्य की बेटियों को जन्म से लेकर 18 साल की उम्र तक एक निश्चित रकम, प्रोत्साहन राशि के रूप में दी जाएगी. साथ ही विवाह के समय वित्तीय सहायता मिलेगी. साथ ही सीएम ने कहा कि सुकन्या योजना के तहत बेटियों को चार किस्त में प्रोत्साहन राशि मिलेगी. बेटियों को पहली किस्त छठी कक्षा में प्रवेश के समय, दूसरी नौवीं कक्षा में प्रवेश के समय, तीसरी 12वीं कक्षा में प्रवेश के समय और आखिरी किस्त विवाह के समय दी जायेगी. सीएम ने कहा कि सरकार आदिवासियों की दशा और दिशा बदलना चाहती है. सरकार इसके लिए कृतसंकल्पित है. उन्होंने कहा कि सिद्धो कान्हो के परिवार से जुड़े आदिवासी समूह के समुदायों को सरकार 1000 रुपये मासिक पेंशन देगी.

आदिवासी समुदाय के लोगों के बीच परिसम्पत्तियों का वितरण भी किया

सभा के बाद सीएम ने जन चौपाल लगायी. इसमें लोगों ने अपनी समस्याएं सुनायीं. सीएम ने वहां मौजूद अधिकारियों को इन समस्याओं के तुरंत निष्पादन का आदेश दिया. चौपाल में बरहेट की मंझली टुडू ने बताया कि उनके गांव की कई महिलाओं ने रानी मिस्त्री की ट्रेनिंग ले रखी है. लेकिन उनको काम नहीं मिल रहा है. कुंडली गांव के एसर हेम्ब्रम ने बताया की उनके गांव में जो शौचालय बना है, उसमें अनियमितता बरती गयी है. गांव में बिजली नहीं है. सीएम ने तुरंत प्रखंड के बीडीओ को शौचालय की प्रगति रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा. सीएम ने दिसंबर के अंत तक गांव में बिजली पहुंच जाने की बात भी कही. इसी तरह फूलभंगा गांव की सारिका मुर्मू ने शिकायत करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री आवास में ग्राम प्रधान 1000 रुपये, कर्मचारी 500 रुपये रिश्वत मांगता है.

सीएम ने अधिकारियों को इसकी जांच करने के लिए कहा. सीएम ने कहा कि 50 पहाड़ियां गांवों की निशानेदही कर उनमें पाइपलाइन से पीने का पानी पहुंचाया जाएगा. इस दौरान सीएम ने आदिवासी समुदाय के लोगों के बीच परिसम्पत्तियों का वितरण भी किया. जन चौपाल के बाद सीएम ने बिजली घाट में गंगा महाआरती में शिरकत की.

इसे भी पढ़ें – बीसीसीएल के खदानों में भरे पानी से मिलेगी राहत, पिट के पानी से धनबाद में होगी जलापूर्ति

इसे भी पढ़ें – स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 का सच : झिरी में नहीं लगा प्लांट, अब कबाड़ी वालों से सहयोग लेगा निगम

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: