HazaribaghJharkhandRanchi

उज्ज्वला दीदी सम्मेलन में सीएम ने कहा, महिलाओं को सम्मान मिला,  धुआं मुक्त रसोई घर दिया

विज्ञापन

Ranchi : मुख्यमंत्री रघुवर दास ने उत्तरी छोटानागपुर के हजारीबाग में आयोजित उज्ज्वला दीदी सम्मेलन में कहा कि 43 लाख से अधिक मां बहनों को सिलेंडर की दूसरी गैस भराई निःशुल्क मिलेगी. कहा कि 33 लाख को गैस कनेक्शन मिला है.  30 सितम्बर तक और 10 लाख महिलाओं को कनेक्शन मिल जायेगा. यानि शत प्रतिशत परिवारों को मुफ्त में एलपीजी गैस सिलेंडर और चूल्हा प्रदान करना है ताकि, राज्य की महिलाओं को सम्मान मिले, उनका सशक्तिकरण हो व धुआं मुक्त रसोई घर दिया जा सके.

ऑफिसर्स को ‘लौंडा’ कहते हैं DREAMLINE के अधिकारी, वेतन मांगने पर टर्मिनेट करने की धमकी

advt

23 अगस्त को कोल्हान की धरती से योजना का शुभारंभ हुआ

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य की गरीब परिवार की महिलाएं दूसरा रिफिल भरवाने में असमर्थ थीं. सरकार ने राज्य की बहनों की पीड़ा को समझा और उन्हें मुफ्त दूसरा रिफिल प्रदान करने का वादा रक्षाबंधन के दिन किया. 23 अगस्त को कोल्हान की धरती से योजना का शुभारंभ हुआ. आज अतिरिक्त रिफिल प्रदान करने का दूसरा कार्यक्रम उत्तरी छोटानागपुर की धरा से हो रहा है. आने वाले दिनों में राज्य के बचे हुए तीन प्रमंडलों में कार्यक्रम का आयोजन कर राज्य की बहनों को दूसरा रिफिल मैं खुद जाकर कर प्रदान करूंगा.

उज्ज्वला दीदी घर-घर जाकर एलपीजी के सुरक्षित उपयोग की जानकारी देंगी

मुख्यमंत्री ने कहा कि उज्ज्वला दीदी बनाने के पीछे सरकार का उद्देश्य स्पष्ट है. हमें सभी बहनों की रसोई घर को सुरक्षित करना है. सभी पंचायतों की उज्ज्वला दीदी घर घर जाकर एलपीजी के सुरक्षित उपयोग की जानकारी देंगी. इसके लिए रांची में 70 महिलाओं को मास्टर ट्रेनर बनाया जायेगा, जो प्रखंड स्तर पर उज्ज्वला दीदियों को प्रशिक्षण देंगी. ताकि गांव के सभी घर की रसोई को सुरक्षित बनाया जा सके. साथ ही सभी उज्ज्वला दीदी वैसे परिवारों को भी चिन्हित करेंगी, जिन्हें उज्ज्वला योजना का लाभ नहीं मिला है. वैसे छुटे हुए परिवारों को सरकार योजना से लाभान्वित करेगी.

42 साल से अधर लटकी कोनार सिंचाई परियोजना का शुभारंभ

विष्णुगढ़ में मुख्यमंत्री रघुवर दास ने झारखंड की महत्वाकांक्षी कोनार सिंचाई परियोजना का शुभारंभ किया. इस अवसर पर कहा कि अब इसका लाभ किसानों को मिलने लगेगा. खेतों तक पानी पहुंचने लगेगा. इस परियोजना से तीन जिले हजारीबाग, बोकारो और गिरिडीह के 62 हजार 895 हेक्टेयर खेतों को सिंचाई हेतु पानी मिलेगा.

adv

कहा कि कोनार सिंचाई परियोजना पिछले 42 साल से अधर में थी. 2014 के बाद योजना पर काम शुरू हुआ और 5 साल में पूरा कर दिया गया. जानकारी के अनुसार कोनार सिंचाई परियोजना से हजारीबाग के विष्णुगढ़ प्रखंड के 20 गांव, गिरिडीह के डुमरी और बगोदर प्रखंड के 62 गांव और बोकारो के नावाडीह प्रखंड के 3 गांवों के किसानों को सीधा फायदा पहुंचेगा.

इसे भी पढ़ें –महिला के साथ विधायक ढ़ुल्लू महतो ने की थी अश्लील हरकत,  HC ने DGP से पूछा क्यों नहीं दर्ज हुई प्राथमिकी

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close