BiharNational

जन्मदिन पर सीएम नीतीश व कुशवाहा ने लालू को दी बधाई, तेज हुई राजनीतिक सरगर्मी

Patna : लालू प्रसाद दिल्ली में हैं. बावजूद इसके शुक्रवार को वे दिन भर पटना के राजनीतिक गलियारे में छाये रहे. जन्मदिन पर उनको मिलने वाले बधाईयों के राजनीतिक पंडित अपने अपने स्तर से मायने निकाले रहे हैं. चर्चा सबसे ज्यादा जदयू संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा की हो रही है. कुशवाहा ने अपने बधाई संदेश में लालू को सामाजिक न्याय की लड़ाई का अगुआ बताया है. इसके बाद से ही समर्थक और विरोधी इसकी अपने अपने स्तर से व्याख्या करनी शुरु कर दी है. रही-सही कसर लालू के बड़े पुत्र तेज प्रताप ने जीतन राम मांझी को न्योता देकर पूरी कर दी.

इसे भी पढ़ें: जिस बिल्डिंग से पूरे शहर को किया जाता है नियंत्रित, उसी बिल्डिंग की बेसमेंट पार्किंग में जमा है घुटने भर पानी

बधाई के बहाने हुई मांझी-लालू की बात

लालू प्रसाद के जन्मदिन के बहाने शुक्रवार को पूर्व मुख्यमंत्री एवं हम प्रमुख जीतन राम मांझी और तेज प्रताप की मुलाकात हुई. मांझी ने भी लालू प्रसाद को टेलीफोन से उनको उनके जन्मदिन पर बधाई दी. सूत्रों का कहना है कि दोनों नेताओं के बीच काफी देर तक बातचीत हुई. यह बात बंद कमरे में हुई है.

advt

लेकिन, बंद कमरे से निकलने के बाद तेजप्रताप ने पत्रकारों के एक सवाल पर कहा कि वे हमारे अभिवावक हैं, उनकी जब मर्जी हो, गठबंधन में आ जाएं. उनके लिए तो हर वक्त उनके घर का दरवाजा खुला है. हालांकि इसपर मांझी ने हम जहां हैं, ठीक हैं कह कर कयासों पर विराम लगाने का प्रयास किया. इधर भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने भी मांझी को दलितों के सर्वमान्य नेता बताते हुए कहा कि उन पर डोरे डालने वाले सफल नहीं होंगे.

चर्चा में कुशवाहा की बधाई

लालू प्रसाद को उनके जन्मदिन पर बधाई की सबसे ज्यादा चर्चा उपेंद्र कुशवाहा की हो रही है. दरअसल, कुशवाहा ने दिल्ली में लालू के जन्मदिन के मौके पर केक काटने की तस्वीर के साथ ट्वीट करते हुए लिखा कि बिहार में सामाजिक न्याय की लड़ाई लडऩे वाले पूर्व मुख्यमंत्री आदरणीय श्री लालू प्रसादजी को जन्मदिन की हार्दिक बधाई. आपके उत्तम स्वास्थ्य एवं दीर्घायु की कामना करते हैं.

इसे भी पढ़ें: लातेहार: बेतला जंगल से मिली अधेड़ की सड़ी गली लाश, पुलिस और वन विभाग मामले की जांच में जुटे

कुशवाहा के ट्वीट के राजनीतिक पंडित राजनीतिक मायने निकाल रहे हैं वे सरकार की सहयोगी भाजपा की सरकार पर हाल के दिनों की जा रही तीखी टिप्पणी से जोड़कर देख रहे है. कुशवाहा के बयान ने विरोधी दलों को भी हैरत में डाल दिया है. बताते चलें कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी लालू प्रसाद को उनके जन्मदिन पर बधाई दी है.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: