न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना : 18 की जगह 21 जनवरी को पूरे जिले में ग्रामसभा

1,312

Palamu : मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए पलामू जिले में प्रशासनिक कसरत शुरू कर दी गयी है. 15 जनवरी से ही प्रिंटेड प्री इनफारमेटिव नोटिस किसानों में तामिला करायी जा रही है. अब तक दो लाख नोटिस प्रिंट किए गए हैं. जबकि 40 हजार नोटिस का तामिला कराया जा चुका है. 22 जनवरी तक जिले के सभी साढ़े चार लाख किसान खाता धारकों के बीच नोटिस का तामिला कराया जायेगा.

ग्रामसभा पूर्वाहन 10 बजे से अपराहन तीन बजे तक होगी

जिले के उपायुक्त डॉ. शांतनु अग्रहरि ने गुरुवार को प्रेस कांफ्रेंस आयोजित कर कहा कि मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना को लेकर आगामी 21 जनवरी को जिले के सभी राजस्व ग्रामों में एक साथ ग्राम सभा का आयोजन किया जायेगा. ग्रामसभा का समय सुबह 10 बजे से अपराहन तीन बजे तक निर्धारित की गयी है. ग्रामसभा के जरिए गांव स्तर पर पांच सदस्यीय रैयत समन्वय समिति का गठन किया जायेगा. गौरतलब है कि पहले ग्रामसभा की तिथि 18 जनवरी निर्धारित की गयी थी, जिसमें परिवर्तन कर इसे 21 जनवरी कर दिया गया है।

hosp3

कृषि में निवेश को बढ़ावा देगी मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना 

उपायुक्त ने बताया कि कृषि में निवेश को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार ने यह महत्वकांक्षी योजना शुरू की है. इसके तहत खरीफ मौसम की फसलों के लिए सरकार की ओर से सभी किसानों को प्रति एकड़ प्रतिवर्ष पांच हजार रुपये का आर्थिक सहयोग दिया जायेगा. यह राशि सीधे लाभुकों के खाते में जायेगी. डॉ. अग्रहरि ने बताया कि किसान रैयत समन्वय समिति के समक्ष अपनी आपत्ति दर्ज कर सकेंगे. इन आपत्तियों पर 24 जनवरी से सात फरवरी तक सुनवाई होगी.

वास्तविक किसानों का डाटा बेस होगा तैयार

उपायुक्त ने बताया कि जिले में वास्तविक किसानों का डाटा बेस तैयार किया जा रहा है. उन्होंने बताया कि आगामी 27 फरवरी तक किसानों का डाटा बेस तैयार कर लिया जायेगा. उन्होंने बताया कि किसानों का डाटा बेस तैयार करने में लोकतांत्रिक प्रक्रिया अपनायी जा रही है. इस योजना के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए जिले के सभी सरकारी तंत्रों का सहयोग लिया जा रहा है.

मौके पर कौन-कौन?

प्रेस कांफ्रेंस में अन्य लोगों के अलावा जिला परिषद अध्यक्ष प्रभा देवी, उप विकास आयुक्त बिंदु माधव सिंह, डीआरडीए के निदेशक हैदर अली, कृषि विभाग के पदाधिकारियों समेत जिला परिषद सदस्य विनोद सिंह, प्रमोद सिंह, मुक्तेश्वर पांडेय और गीता देवी भी मौजूद थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: