HEALTHJharkhandMain SliderNEWSRanchiTOP SLIDER

सीएम ने किया वैक्सीनेशन का शुभारंभ, सफाई कर्मचारी मरियम गुड़िया को रांची में पहला टीका

राज्य के 4800 और राजधानी में आज 200 लोगों को लगेगा कोरोना की टीका

Ranchi: देश के साथ ही झारखंड में भी आज कोरोना टीकाकरण का शुभारंभ हो गया.वैक्सीनेशन का शुभारंभ करते हुए कहा सीएम ने कहा कि  मैं यह उम्मीद करता हूं कि कोरोना संक्रमण जैसे वैश्विक महामारी में यह कोरोना टीका देश के लिए वरदान साबित होगा. आज से कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम पूरे राज्य में प्रारंभ हो रहा है.राज्य के 24 जिलों में 2-2 वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गये हैं. राज्यभर में कुल 48 वैक्सीनेशन सेंटरों पर आज टीकाकरण कार्य प्रारंभ हुआ है.मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार के स्वास्थ्य विभाग द्वारा भारत सरकार के दिशा-निर्देश के अनुरुप टीकाकरण की कार्य योजना तैयार की गयी है. मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले कुछ महीनों से हम सभी लोग वैश्विक महामारी से जंग लड़ रहे हैं. कोरोना वैक्सीन यह एक वैक्सीन नहीं बल्कि महामारी से जंग लड़ रहे फ्रंटलाइन हेल्थ वर्कर्स के लिए एक हथियार है.

सभी सेंटरों पर वैक्सीन उपलब्ध कराना प्राथमिकता

सीएम ने  कहा कि राज्य के सभी वैक्सीनेशन सेंटरों में जरूरत के अनुरुप पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन उपलब्ध हो यही राज्य सरकार की प्राथमिकता है. सभी सेंटर सुचारू रूप से चले इस निमित्त पूरी तैयारियां की गयी है. मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के शुरुआती दिनों से ही राज्य सरकार पूरी प्रतिबद्धता के साथ संक्रमण से बचाव हेतु कार्य कर रही है. कोरोना टेस्टिंग व्यवस्था बनाने में झारखंड देश के टॉप तीन चार राज्यों में शामिल है.

स्वास्थ्य मंत्री नहीं ले सके कोरोना का टीका

झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री ने स्वास्थ्य कर्मियों के संशय को दूर करने के लिए कोरोना का पहला टीका लेने की घोषणा की थी. लेकिन उन्हें स्वास्थ्य विभाग ने मंजूरी नहीं दी है. स्वास्थ्य मंत्री ने स्वास्थ्य विभाग भारत सरकार को लिखा था कि वे स्वास्थ्य विभाग के कर्मी हैं इसलिए उन्हें भी टीका लगना चाहिए. लेकिन केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग ने ऐसा करने से मना कर दिया है. इस पर उन्होंने कहा है कि भारत सरकार शायद स्वास्थ्य मंत्री को स्वास्थ्य विभाग का कर्मी नहीं मानती है. उन्होंने कहा था कि वह स्वास्थ्य कर्मियों के संशय को दूर करने के लिए पहला टीका लेना चाहते हैं. पर अब ऐसा नहीं हो सकेगा. उन्होंने कहा कि अगर प्रधानमंत्री को टीका लग जाता तो शायद सभी को टीका लग जाता. पर स्वास्थ्य विभाग स्वास्थ्य मंत्री को स्वास्थ्य कर्मी नहीं मानती है. हालांकि उन्होंने कहा कि कोरोना के टीकाकरण को लेकर झारखंड में मुकम्मल तैयारी हो चुकी है.

सफाई कर्मचारी मरियम गुड़िया को पहला टीका

सदर अस्‍पताल में सफाई कर्मचारी मरियम गुड़िया को कोरोना का पहला वैक्सीन लगाया गया . वैक्सीन लगाने के समय वैक्सीनेशन सेंटर में सीएम हेमंत सोरेन के साथ सिविल सर्जन डॉक्टर वीबी प्रसाद समेत अन्य चिकित्सक मौजूद रहे.

राज्य के 48 केंद्रों में लगेगा टीका

16 जनवरी से कोरोना टीकाकरण का दौर चालू हो गया है झारखंड के 48 केंद्रों में विभिन्न स्वास्थ्य कर्मियों को टिका दिया जाएगा रांची के सदर अस्पताल से मुख्यमंत्री इसकी शुरुआत करेंगे रांची में सदर अस्पताल के अलावा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नामकुम में भी टीकाकरण होगा. इसके अलावा  राज्य के विभिन्न जिलों के सदर अस्पताल के अलावा एक एक सीएचसी में टीकाकरण कैंप लगाया गया है. झारखंड में सबसे पहले स्वास्थ्य विभाग के सफाईकर्मियों को टिका दिया जा रहा है. पूरे राज्य में आज 4800 लोगों को टीका लगाया जाएगा. रांची में 200 लोगों का टीकाकरण किया जाएगा.

इसे भी पढ़ें- बर्ड फ्लू के खतरे से बेफिक्र, पक्षियों से अपनी दोस्ती निभा रहा है यह शख्स   

 

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: