Lead NewsNational

असम के 6 जवानों को मारने के बाद जश्न मनाते मिजोरम पुलिस का VIDEO CM हिमंत ने किया शेयर

असम और मिजोरम के बीच सीमा विवाद को लेकर भड़की थी हिंसा

New Delhi : असम और मिजोरम के बीच सीमा विवाद के अचानक बढ़ने के दौरान राज्य की ‘संवैधानिक सीमा’ की सुरक्षा कर रहे असम पुलिस के कम से कम छह जवानों की मौत हो गई और एक पुलिस अधीक्षक समेत 60 अन्य घायल हो गए. दोनों पक्षों ने हिंसा के लिए एक-दूसरे की पुलिस को जिम्मेदार ठहराया और केंद्र के हस्तक्षेप की मांग की. इस मामले को लेकर असम और मिजोरम के मुख्यमंत्रियों के बीच सार्वजनिक रूप से कहासुनी भी हुई है. हिंसा को लेकर असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने देर रात एक प्रेस नोट जारी किया. जिसमें उन्होंने घटना के बारे में असम सरकार का पक्ष रखा है.

इसे भी पढ़ें :मनरेगा पोर्टल पर सटीक जानकारी डालने का पोस्ट ऑफिस को निर्देश

सरमा बोले, मिजोरम की तरफ से भीड़ ने हमला

 

सरमा ने आगे कहा कि मिजोरम के साथ सीमा पर तनाव को देखते हुए, असम सरकार ने राज्य से अपने लोगों और पुलिस कर्मियों को बेवजह हिंसा करने से रोकने और शांति बहाल करने की दिशा में काम करने का आग्रह किया.
सरकार ने कहा है कि दोनों राज्यों की सीमा पर तनाव को देखते हुए असम पुलिस के अधिकारी सुबह में वहां पहुंचे थे और मिजोरम के लोगों से यथास्थिति बनाने का आग्रह किया था. हालांकि, ऐसा नहीं हुआ है और पुलिस के अधिकारियों पर मिजोरम की तरफ से भीड़ ने हमला कर दिया. जिसको कि मिजोरम पुलिस की शह प्राप्त था. इसके लिए असम सरकार ने एक वीडियो का भी हवाला दिया है.

केंद्रीय गृह मंत्री ने हल खोजने को कहा

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने असम और मिजोरम के मुख्यमंत्रियों, हिमंत बिस्वा सरमा और जोरमथांगा से बात की और उनसे विवादित सीमा पर शांति सुनिश्चित करने और सौहार्दपूर्ण समाधान खोजने का आग्रह किया. अमित शाह ने पूर्वोत्तर के आठ राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत में सीमा विवादों को सुलझाने की आवश्यकता को रेखांकित किया था जिसके दो दिन बाद यह घटना सामने आई है.

इसे भी पढ़ें :अधिवक्ता मनोज झा हत्याकांड : तमाड़ थाने में पुलिस तीन लोगों से कर रही है पूछताछ

असम के मुख्यमंत्री ने शेयर किया जश्न का वीडियो

मामला उस समय और तुल पकड़ लिया जब असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने अपने ट्विटर हैंडल से एक वीडियो शेयर किया. इस वीडियो में मिजोरम पुलिस के जवानों के जश्न मनाते हुए दिखाया गया है. वे स्थानीय लोगों से हाथ मिला रहे हैं और एक दूसरे को बधाई दे रहे हैं. सरमा ने वीडियो को शेयर करते हुए लिखा ‘असम के 5 पुलिस कर्मियों की हत्या और कई को घायल करने के बाद मिजोरम पुलिस और गुंडे ऐसे जश्न मना मना रहे हैं. दुखद और भयावह.

इसे भी पढ़ें :फर्जीवाड़ाः अपराधियों ने भाजपा नेता कुणाल षाडंगी को बना दिया महिला किसान, उठी जांच की मांग

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: