Khas-KhabarNational

मीडिया रिपोर्ट में दावाः घटिया गोला-बारुद से बढ़ते हादसे को लेकर सेना चिंतित, सरकार को लिखी चिट्ठी

New Delhi: हथियारों की खराब क्वालिटी को लेकर सेना इनदिनों चिंतित है. और पूरे मामले को लेकर सरकार को चिट्ठी लिखी गयी है. अंग्रेजी अखबार द टाइम्स ऑफ इंडिया ने अपनी रिपोर्ट में ये दावा किया है.

सेना ने अपने टैंकों, आर्टिलरी और एयर डिफेंस गन और दूसरे हथियारों में इस्तेमाल घटिया क्वॉलिटी के गोला-बारूद की वजह से लगातार हादसे बढ़ रहे हैं.

इसे भी पढ़ेंःPM मोदी 15 मई को देवघर में करेंगे जनसभा, पांच IPS व 37 DSP संभालेंगे सुरक्षा की कमान

Catalyst IAS
ram janam hospital

जिस पर बड़ी चिंता जाहिर की गयी है. ज्ञात हो कि सेना को ये गोला-बारूद और हथियार सरकारी ऑर्डनेंस फैक्टरी बोर्ड की ओर से मुहैया कराया जाता है.

The Royal’s
Sanjeevani

घटिया हथियार से बढ़ रहे हादसे

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पूरे मामले को लेकर सेना ने रक्षा मंत्रालय से कहा है कि घटिया हथियारों के कारण बढ़ते हादसों की वजह से जानमाल के नुकसान के अलावा लोग घायल हो रहे हैं. साथ ही उपकरणों को भी नुकसान पहुंच रहा है.

सेना का कहना है कि दुर्घटनाओं की दर में चौंकाने वाली बढ़ोतरी हुई हैं. आशंका जताई गई है कि इन घटनाओं की वजह से सेना का ऑर्डनेंस फैक्ट्री बोर्ड (OFB) द्वारा मुहैया कराए गए गोला बारूद में भरोसा खत्म हो जाएगा.

इसे भी पढ़ेंःलोकसभा चुनाव के अंतिम चरण में नीतीश के नाम लालू का खुला पत्र

द टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर में रक्षा मंत्रालय के सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि आर्मी ने यह मामला सेक्रेटरी (डिफेंस प्रोडक्शन) अजय कुमार के सामने उठाया है. इसमें ऑर्डनेंस फैक्ट्री बोर्ड द्वारा ‘क्वॉलिटी कंट्रोल में कमी’ को लेकर ‘गंभीर चिंता’ जताई गई है.

वहीं अजय कुमार ने सेना से गोला बारूद को लेकर आ रही समस्याओं पर विस्तार से लिखित रिपोर्ट दाखिल करने के लिए कहा.

सूत्रों की मानें तो घटिया गोला-बारूद के कारण 105 मिमी लाइट फील्ड गन, 130 मिमी एमके-1 मीडियम गन, 40 एमएम एल-70 एयर डिफेंस गन के अलावा टी-72, टी-90 और अर्जुन टैंक और यहां तक कि बोफोर्स टैंक के साथ दिक्कतें आ रही हैं.

उल्लेखनीय है कि OFB के अंतर्गत 41 फैक्ट्रियां हैं और इसका साल का टर्नओवर 19 हजार करोड़ रुपये का है. यह 12 लाख जवानों वाली सेना को युद्ध सामग्री मुहैया कराने का ये प्राथमिक स्रोत है.

इसे भी पढ़ेंःपार्टी का पट्टा लगा कर वोट डालने के आरोप में बीजेपी प्रत्याशी अन्नापूर्णा देवी पर प्राथमिकी दर्ज

Related Articles

Back to top button