Khas-KhabarNational

लंकेश मर्डर की जांच कर रही SIT का दावाः हिंदुत्वादी संगठन देश में चला रहा था आतंकी कैंप

Bengaluru: पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या की जांच कर रही एसआईटी ने दावा किया है कि हिंदुत्वादी संगठन अभिनव भारत द्वारा देश भर में आतंकी संगठन संचालित किये जाते थे.

कर्नाटक पुलिस की एसआईटी ने मालेगांव धमाके से जुड़े हिंदुत्वादी संगठन अभिनव भारत को लेकर एसआईटी ने ये भी दावा किया यह संगठन देश के विभिन्न हिस्सों में खुफिया ठिकानों पर बम बनाने की ट्रेनिंग भी देता था.

इसे भी पढ़ेंःगांधी परिवार ने INS विराट को बना दी निजी टैक्सी, छुट्टियां मनाने के लिए गये थे द्वीप: मोदी

Catalyst IAS
ram janam hospital

एसआईटी ने इस सारी बातों का जिक्र पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के मामले में कोर्ट में सौंपी अपनी क्लोजर रिपोर्ट में किया हैं.

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

क्या है रिपोर्ट में

एसआईटी ने अपनी क्लोजर रिपोर्ट में कहा है कि हिंदुत्व संगठन अभिनव भारत के चार लापता सदस्यों ने साल 2011-2016 के बीच देश के विभिन्न हिस्सों में सनातन संस्था से संबंधित कई संदिग्ध लोगों को बम बनाने की ट्रेनिंग दी. ये प्रशिक्षण देश के विभिन्न खुफिया हिस्सों में दिया गया.

साल 2006 से 2008 के बीच समझौता एक्सप्रेस ब्लास्ट, मक्का मस्जिद विस्फोट, अजमेर दरगाह और मालेगांव विस्फोट मामले से ये सभी जुड़े हुए थे.

इसे भी पढ़ेंःप्रियंका गांधी की पीएम मोदी को चुनौतीः बाकी के दो चरण जनता से किये गये वादों पर लड़कर दिखाये

गौरतलब है कि साल 2008 में मालेगांव विस्फोट मामले में साध्वी प्रज्ञा समेत 13 अन्य लोग आरोपी हैं. इसमें अभिनव भारत के दो लोग रामजी कलसांगरा और संदीप डांगे शामिल है.

इन लोगों को ‘घोषित अपराधी’ ठहराया जा चुका है. आरोपी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को बीजेपी ने भोपाल संसदीय सीट से प्रत्याशी बनाया है.

दस्तावेज के अनुसार, गौरी लंकेश की हत्या के मामले में सनातन संस्थान से जुड़े तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार लोग उस ट्रेनिंग कैंप में भी शामिल हुए थे. जहां बम बनाने की ट्रेनिंग दी जा रही थी. इस मामले में चार गवाह भी शामिल हैं.

इसे भी पढ़ेंःलोकसभा चुनाव 2019 : भारी संख्या में पुलिस बलों की तैनाती के लिए कई अधिकारियों की सुरक्षा में कटौती

Related Articles

Back to top button