न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

असम के पूर्व डीजीपी का दावाः वोट दिया किसी और को पर्ची निकली किसी और के नाम की

809

Dispur: मंगलवार को देश के 15 राज्यों की 117 सीटों पर वोटिंग हुई. असम की 4 सीटों पर भी वोट डाले गए. ऐसे में असम के पूर्व डीजीपी हरेकृष्णा डेका ने ईवीएम पर सवाल खड़े किये हैं.

उनका दावा है कि उन्होंने वोट किसी और प्रत्याशी को दिया था, लेकिन वीवीपैट से पर्ची दूसरे प्रत्याशी के नाम की निकली.

इसे भी पढ़ेंःअरुणाचल प्रदेश-नेपाल में भूकंप के झटके, रिक्टर पैमाने पर 6.1 रही तीव्रता

क्या है पूरा मामला

असम के पूर्व डीजीपी हरेकृष्णा डेका ने मंगलवार 23 अप्रैल को लचित नगर एलपी स्कूल के पोलिंग बूथ में वोट डाला. लेकिन उनका दावा है कि जब उन्होंने वोट डाला तो वीपीपैट पर किसी दूसरे प्रत्याशी का नाम दिखाई दिया.

पूर्व डीजीपी का कहना है कि वह इस मामले की शिकायत करना चाहते थे, लेकिन उन्हें बताया गया कि अगर कंप्लेंट गलत पाई गई तो उन्हें सजा मिलेगी.

Related Posts

राज्य कैसे बने एजुकेशन हब, उच्च शिक्षा पाने वाले 640 अल्पसंख्यक छात्रों को ही 2018-19 में मिली छात्रवृत्ति

अल्पसंख्यक छात्रों को प्री मैट्रिक छात्रवृत्ति 39,898 को मिली, जबकि राज्य में 85,000 कोटा है

इसे भी पढ़ेंःलोहरदगा : PM मोदी करेंगे चुनावी सभा को संबोधित, सुरक्षा में 10 हजार जवान तैनात

ईवीएम पर उठते रहे हैं सवाल

गौरतलब है कि ईवीएम को लेकर कई बार सवाल उठ चुके हैं. विपक्ष जहां बार-बार ईवीएम में गड़बड़ी का आरोप लगाता रहा है. वहीं चुनाव आयोग ने इससे इनकार किया है.

इन शिकायतों से निपटने के लिए चुनाव आयोग ने EVM के साथ VVPAT मशीन को जोड़ने का फैसला किया, जिससे वोटर्स को पता चल सके कि उन्होंने जिसे वोट दिया है, वह उसे मिला है या नहीं.

इसे भी पढ़ेंःतीसरे चरण में शामिल सभी राज्यों में गिरा मत प्रतिशत, 66% हुई वोटिंग

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: