National

#CJIRanjanGogoi ने अमेरिकी देशों, मध्य पूर्व के देशों की यात्रा रद्द की

NewDelhi : 16 अक्टूबर को राम मंदिर-बाबरी मस्जिद जमीन विवाद की सुनवाई पूरी करने के बाद चीफ जस्टिस रंजन गोगोई  के नेतृत्व वाली पीठ ने फैसला सुरक्षित रख लिया है. खबरों के अनुसार सीजेआई  रंजन गोगोई ने फैसला दिये जाने के मद्देनजर अपनी विदेश यात्रा रद्द कर दी है. माना जा रहा है कि 17 नवंबर से पहले फैसला आ जायेगा.

Jharkhand Rai

इसे भी पढ़ें :  #SupremeCourt में #RamJanmabhoomiBabriMasjid विवाद की सुनवाई पूरी, 23 दिन के भीतर फैसला

सीजेआई गोगोई 17 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं

चीफ जस्टिस को आधिकारिक कार्यक्रमों में शामिल होने विदेश जाना था. उन्हें  17 नवंबर को सेवानिवृत्त होने से पहले कुछ दक्षिण अमेरिकी देशों, मध्य पूर्व और कुछ अन्य देशों की यात्रा पर जाना था. समाचार एजेंसी पीटीआई ने सूत्रों के हवाले से बताया कि चीफ जस्टिस ने प्रस्तावित विदेश यात्राओं को अंतिम रूप मिलने से पहले इन्हें रद्द किया है.

जान लें कि गोगोई ने पिछले साल 3 अक्टूबर को भारत के 46वें प्रधान न्यायाधीश के रूप में शपथ ली थी. सीजेआई रंजन गोगोई की अध्यक्षता में सुप्रीम कोर्ट की 5 जजों की संवैधानिक बेंच ने 40 दिनों तक अयोध्या मामले की केस की मैराथन सुनवाई की है. अयोध्या मामले का फैसला 4 नवंबर से 17 नवंबर के बीच आने की उम्मीद की जा रही है, क्योंकि सीजेआई गोगोई 17 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं.

Samford

इसे भी पढ़ें : #AyodhyaHearing : अयोध्या पर फैसले से पहले ही यूपी में हलचल, 30 नवंबर तक सरकारी अफसरों की छुट्टियां रद्द

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: