Lead NewsNationalNEWSWorld

श्रीलंका में गृहयुद्ध जैसे हालात, प्रधानमंत्री समेत 12 मंत्रियों के घर फूंके, पूर्व मंत्री को कार समेत झील में फेंका

New Delhi: पड़ोसी देश श्रीलंका में आर्थिक संकट से गहराया असंतोष अब गृह युद्ध में तब्दील होते जा रहा है. प्रधानमंत्री महिंद्रा राजपक्षे के इस्तीफे के बाद हालात बेकाबू हो गया है. महिंद्रा राजपक्षे के समर्थक व विरोधी दोनों उग्र हो चले हैं. उग्र लोगों ने हंबनटोटो में महिंद्रा राजपक्षे के पुश्तैनी घऱ को आग के हवाले कर दिया. कोलंबो छोड़कर भाग रहे महिंद्रा के लोगों को जगह-जगह मारा-पीटा जा रहा है. बताया जा रहा है कि महिंद्रा कैबिनेट के करीब 12 मंत्रियों के घरों को फूंक दिया गया है.

 

श्रीलंका की मौजूदा हालात को देखते हुए वहां रह रहे भारतीयों पर भी संकट आन पड़ी है. श्रीलंका में फंसे भारतीयों के लिए हेल्पलाइन नंबर +94-773727832 जारी किया गया है. बताया जा रहा है कि राजधानी कोलंबो में पूर्व मंत्री जॉनसन फर्नांडो को कार सहित झील में फेंक दिया गया. श्रीलंकाई सांसद जनक बंडारा तेनाकून के दांबुला स्थित घर में आग लगा दी गई. प्रदर्शनकारियों ने पूर्व मंत्री रोहिता अबेगुणवर्धने के आवास पर हमला किया. हालांकि, उग्र प्रदर्शन को देखते हुए सोमवार को श्रीलंका कर्फ्यू लगा दिया गया है.

 

मालूम हो कि श्रीलंका की खराब आर्थिक हालात के मद्देनजर आम लोगों ने शुक्रवार को नेशनल असेंबली में हिंसक प्रदर्शन किए थे. इसके बाद राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे ने फिर से इमरजेंसी लगाने की घोषणा की थी. श्रीलंका में एक महीने बाद दोबारा आपातकाल लगाया गया है. इसके पहले 1 अप्रैल को भी इमरजेंसी लगाई गई थी, जिसे 6 अप्रैल को हटा दिया गया था.

Catalyst IAS
SIP abacus

Related Articles

Back to top button