Bihar

निकाय कर्मियों की हड़ताल: 12 सूत्री मांगों को लेकर 30 हजार कर्मियों ने किया स्ट्राइक

Patna : बिहार में निकाय कर्मियों की हड़ताल आज से शुरू हो गई है. बिहार राज्य स्थानीय निकाय कर्मचारी महासंघ के ऐलान पर आज यानी मंगलवार से राज्य के सभी नगर निकाय के कर्मचारी हड़ताल पर चले गए हैं. नगर विकास एवं आवास विभाग के प्रधान सचिव के साथ वार्ता विफल होने के बाद से हड़ताल पर जाना तय हो गया था.

बिहार राज्य स्थानीय निकाय कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष चंद्रप्रकाश सिंह ने ऐलान कर दिया था कि नगर निकायों के 30 हजार कर्मचारी मंगलवार से हड़ताल पर जाएंगे. हड़ताल से पैदा होने वाली स्थिति के लिए सरकार और नगर निकाय प्रशासन पूरी तरह से जिम्मेदार होंगे.

इसे भी पढ़ें: बिहार : तीसरी लहर की आशंका के बीच बीमार पड़ रहे हैं बच्चे, बुखार से गयी कई बच्चों की जान

ram janam hospital
Catalyst IAS

निकाय कर्मचारियों ने सरकार के समक्ष 12 सूत्री मांग रखी है. इसमें ग्रुप डी के पद को पुनर्जीवित करने की मांग सबसे बड़ी है.

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

इसके अलावा मुख्य मांगों में 10 वर्षों की सेवा पूरी करने वाले दैनिक मजदूरों के नियमितीकरण, इससे पहले दैनिक कर्मचारियों को समान काम के लिए समान वेतन शामिल है.

इसे भी पढ़ें:झारखंड के बाद बिहार विधानसभा में हनुमान चालीसा पढ़ने के लिए छुट्टी की मांग, बीजेपी विधायक ने उठाया सवाल

पटना नगर निगम के चतुर्थ वर्गीय कर्मचारी हड़ताल पर चले गए हैं. तृतीय श्रेणी के कर्मी भी इसी तैयारी में हैं. अगर काम से रोका जाएगा तो वह रुकेंगे प्रधान सचिव स्तर पर वार्ता में मांगों पर गौर नहीं करने का आरोप संघ ने लगाया है.

संघ संघर्ष समिति के अध्यक्ष चंद्रप्रकाश सिंह का कहना है कि हमारी मंशा कभी भी आम लोगों को परेशान करने की नहीं है. लेकिन निगम ने सफाई कर्मचारियों का पद खत्म करने की साजिश के खिलाफ आवाज उठाना हमारी मजबूरी है.

इसे भी पढ़ें: झारखंड विधानसभा : सीपी सिंह ने नाम लिए बगैर मंत्री को कह दिया टेंपो एजेंट, हंगामा हुआ तो वापस लिया बयान

Related Articles

Back to top button