Crime NewsJharkhandRanchi

निर्मल हृदय संस्था में देर रात तक चली CID की जांच, बड़े खुलासे की संभावना

Ranchi: लालपुर थाना क्षेत्र के ईस्ट जेल रोड स्थित निर्मल हृदय संस्था में शुक्रवार देर रात तक सीआइडी की जांच चली जांच में बड़ी संख्या में कागजात जप्त की गयी है.

सीआईडी की टीम के द्वारा जांच में निर्मल हृदय संस्था में बड़ी गड़बड़ी पायी गयी है. जांच में बहुत सारे बच्चों का रिकॉर्ड नहीं मिला है आखिर इतने सारे बच्चे कहां गये.

इस जांच के बाद ही खुलासे होंगे आखिर इतने सारे बच्चे कहां और किसे दिये गये. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शनिवार को भी सीआइडी टीम की जांच जारी रहेगी. वहीं शुक्रवार को सीआइडी ने कई ऐसे कागजात जप्त किये हैं जिससे बड़े खुलासे की संभावना जताई जा रही है. शनिवार को भी कुछ कागजात की जांच की जानी है.

इसे भी पढ़ें- #DoubleEngine सरकार में बेबस छात्र- 7: केमिस्ट और जियोलॉजिस्ट की नियुक्ति 3 साल में भी नहीं हो सकी पूरी, संशय में छात्र

कोर्ट से जारी सर्च वारंट के बाद निर्मल हृदय में ली गयी तलाशी

बच्चा बेचने के मामले में कोर्ट से सर्च वारंट मिलने के बाद शुक्रवार की सुबह सीआइडी की टीम ने निर्मल हृदय संस्थान में छापेमारी की. सिस्टर से पूछताछ भी की गयी. वहीं केस से जुड़े कई महत्वपूर्ण दस्तावेज भी सीआइडी ने जब्त किया.

927 नवजातों के बारे में संस्था ने दे रही जानकारी

अनुसंधान के क्रम में पता चला है कि जुलाई 2018 में कोतवाली एचटीयू थाना में बच्चा बेचने को लेकर केस दर्ज किया गया था. केस दर्ज होने के बाद 11 अविवाहित मां को सीडब्ल्यूसी रांची द्वारा निर्मल हृदय से सबसे पहले आश्रय होम नामकुम और इसके बाद नारी निकेतन कांके और दो अविवाहित मां को सदर अस्पताल से सीधे रांची निकेतन कांके पहुंचाया गया था.

अविवाहित मां के नवजात शिशुओं में से कुछ को सीडब्ल्यूसी संस्था को सौंपा गया था जबकि कुछ को अविवाहित मां अपने साथ ले गयी थी. उस समय अनुसंधान के क्रम में पुलिस ने चार अन्य नवजात शिशुओं को भी बरामद किया था.

अनुसंधान में संस्थान की सिस्टर अनिमा इंदवार द्वारा बच्चे बेचे जाने की बात सामने आयी थी. वहीं ये बात भी सामने आयी थी कि निर्मल हृदय के द्वारा कुल 927 बच्चों के बारे में ना तो सीडब्ल्यूसी को और न ही अनुसंधानकर्ता को अनुसंधान के वत्क बताया गया.

इसे भी पढ़ें- #UnnaoRapeCase: CBI चार्टशीट में MLA सेंगर का नाम लेकिन हटाया हत्या का चार्ज

सीआइडी को निर्मल हृदय से चाहिए ये कागजात

1- निर्मल हृदय संस्था में 3 जुलाई 1995 से लेकर 26 जून 2018 तक अडॉप्ट किये गये शिशु से संबंधित कागजात.

2- जन्मे शिशु के कागजात के साथ हॉस्पिटल की जानकारी.

3- अडॉप्ट किये गये बच्चे के मनी रिसिप्ट से संबंधित कागजात.

4- डाटा जुटाने के लिए कंप्यूटर, डिस्क और पेनड्राइव.

5- ईमेल आइडी और बच्चे के एडॉप्शन से संबंधित डाटा.

6- हृदय संस्थान में 3 जुलाई 1995 से लेकर 29 जून 2018 तक जितने भी अधिकारी कार्यरत थे उसके पहले का पता और वर्तमान का पता और मोबाइल नंबर की मांग की गयी है.

7- सरेंडर डीड के द्वारा बायोलॉजिकल/ अविवाहित मां के द्वारा एडॉप्शन किये गये कागजात.

8- ऐसे हॉस्पिटल का ब्यौरा जिसमें अविवाहित मां को इलाज और डिलीवरी के लिए एडमिट किया गया था.

9- वैसे अविवाहित मां और नये जन्मे बच्चे से संबंधित कागजात जिसको सीडब्ल्यूसी के द्वारा निर्मल हृदय को सौंपा गया था.

10- निर्मल हृदय के अकाउंट में डोनेशन देने वाले धन प्राप्ति का ब्यौरा.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close