JharkhandRanchi

क्रिश्चियन यूथ एसोशिएशन ने सरकार का पुतला फूंका, ईसाइयों को टार्गेट करने का लगाया आरोप

Ranchi : झारखंड क्रिश्चियन यूथ एसोसिएशन ने शनिवार को विरोध मार्च निकाला और राज्य सरकार का पुतला दहन किया. इस अवसर पर वक्ताओं ने राज्य सरकार पर चर्च और मिशनियों को टार्गेट करने का आरोप लगाया.

Jharkhand Rai

संरक्षक अलबिन लकड़ा ने कहा कि राज्य में लगातार आदिवासियों के अधिकारों का हनन हो रहा है. सीएनटी-एसपीटी एक्ट के साथ भी छेड़छाड़ का प्रयास किया जा रहा है जिसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता. आदिवासियों के जाति प्रमाण पत्र पर लगी रोक पर सरकार हस्तक्षेप करे. आरक्षण हमारा संवैधानिक अधिकार है. सरकार धर्म के नाम पर हमें बांटना बंद करे.

इसे भी पढ़ें : 40 फीसदी हो सकता है माध्यमिक शिक्षक नियुक्ति की सीमित परीक्षा का कटऑफ

स्कूल बंद कर रही और दारू दुकानें खोल रही सरकार  

सरकार एक तरफ स्कूलों को बंद कर रही है और दारू की दुकानें लगातार खोलने पर तुली है. क्या राज्य की उन्नति इसी से होगी. सरकार हर मोर्चे पर विफल है. सारे मुद्दों पर सरकार हस्तक्षेप नहीं करती है तो पूरे राज्य में व्यापक आंदोलन चलाया जायेगा और सरकार को इसका खामियाजा 2019 विधानसभा में भुगतना पड़ेगा.

Samford

अध्यक्ष कुलदीप तिर्की ने कहा कि आज राज्य में लगातार ईसाई समुदाय को परेशान किया जा रहा है. सबका साथ सबका विकास का नारा देने वाली सरकार हमें टारगेट कर परेशान कर रही है. धर्मांतरण का आरोप लगाकर इसाई समुदाय को फंसाया जा रहा है.  मॉब लिंचिं के नाम पर स्वर्गीय पतरस जैसे निर्दोश लोगों को मार दिया गया. मसीह समुदाय सरकार की जांच का स्वागत करती यदि वो सभी धर्मिक स्थलों की जमीन की जांच करती जिस तरह चर्च की करने का आदेश दिया गया है. आदिवासी ईसाई समुदाय के जाति प्रमाण पत्र बनाने पर भी रोक लगा दी गयी है.

इसे भी पढ़ें : धनबाद : कोल शॉटेज मामले में CBI और विजिलेंस ने दूसरे दिन भी की जांच, करायी मापी, जब्त किये सैंपल

शिक्षा के मंदिर नष्ट न हों

सुजीत कुजूर ने कहा कि शिक्षा, स्वास्थ्य, सेवा के क्षेत्र में जो कार्य ईसाई मिशनरियों ने झारखंड राज्य में किये हैं सरकार उन्हें नष्ट करने का प्रयास कर रही है. मिशन की जमीन को नापने का कार्य सरकार द्वारा किया जा रहा है ताकि शिक्षा का मंदिर नष्ट हो.

केंद्रीय सरना समिति के अध्यक्ष अजय तिर्की ने कहा सरकार हमें सरना ईसाई के नाम से बांटना बंद करे. अतः हम सभी राजनीतिक दलों से नम्र निवेदन करते हैं कि धर्म की राजनीति न करें.

कार्यक्रम में मुख्य रूप से विकास तिर्की, सुजीत कुजूर, माणिक तिर्की, दीपक लकड़ा,शशि टूटी,अरुण नागेसिया, राम कुमार नायक, विकास परिधीय, अभिषेक बड़ा आदि उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें : बेटा नहीं हुआ तो कर ली दूसरी शादी, पहली पत्नी ने की थाने में शिकायत

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: