न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

तिहाड़ जेल में अलग कोठरी चाहिए अगस्ता वेस्टलैंड डील के आरोपी क्रिश्चियन मिशेल को, अदालत में गुहार

मिशेल को 3,600 करोड़ रुपये के इस सौदे के सिलसिले में संयुक्त अरब अमीरात में गिरफ्तार किया गया था और चार दिसंबर को भारत लाया गया था.

920

 NewDelhiअगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर सौदा  मामले में गिरफ्तार क्रिश्चियन जेम्स मिशेल तिहाड़ जेल में अलग कोठरी चाहता है. खबरों के अनुसार शुक्रवार को उसने दिल्ली की अदालत में अर्जी देकर तिहाड़ जेल में अलग कोठरी में रखे जाने का अनुरोध किया है. बता दें कि मिशेल को 3,600 करोड़ रुपये के इस सौदे के सिलसिले में संयुक्त अरब अमीरात में गिरफ्तार किया गया था और चार दिसंबर को भारत लाया गया था. बुधवार को उसे 28 दिसंबर तक 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था.  मिशेल की ओर से अधिवक्ता एलजे के जोसफ और विष्णु शंकर ने यह आवेदन दिया. उसमें तिहाड़ जेल के अधीक्षक को यह निर्देश देने की मांग की गयी है कि वह आरोपी क्रिश्चियन जेम्स मिशेल को अलग कोठरी आवंटित करें. अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर मामले में प्रवर्तन निदेशालय और सीबीआई जिन तीन कथित बिचौलियों की जांच कर रही है, मिशेल उनमें से एक है.

mi banner add

हिरासत में रख कर पूछताछ की जरूरत नहीं है

Related Posts

राजनाथ सिंह ने कहा, कश्मीर की समस्या का हल होगा,  दुनिया की कोई ताकत इसे रोक नहीं सकती

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को जम्मू-कश्मीर में  कहा कि  राज्य की सभी समस्याएं हल होंगी

इससे पहले बीते 19 दिसंबर को दिल्ली की पटियाला हाउस अदालत ने अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर सौदा मामले में गिरफ्तार किये गये कथित बिचौलिए क्रिश्चयन मिशेल की जमानत याचिका पर फैसला 22 दिसंबर के लिए सुरक्षित रख लिया था और उसे 28 दिसंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. ब्रिटिश नागरिक मिशेल (57) को विशेष न्यायाधीश अरविंद कुमार के समक्ष पेश किया गया था, जहां जांच एजेंसी ने कहा कि उसे आगे हिरासत में रख कर पूछताछ की जरूरत नहीं है. उसे संयुक्त अरब अमीरात में गिरफ्तार किया गया था और चार दिसंबर को भारत को प्रत्यर्पित किया गया था. इसके अगले दिन उसे अदालत में पेश किया गया था. अदालत ने मिशेल को पहले पांच दिन के लिए सीबीआई की हिरासत में भेजा था और बाद में इसकी अवधि बढ़ा दी थी.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: