न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

 चीन में ईसाई समुदाय के चर्च गिराये जा रहे, प्रार्थना करने की जगह नहीं बच रही

चीन की वामपंथी सरकार ने विकास परियोजनाओं के लिए प्राचीन इमारतों को ढहाने का अभियान तेज कर दिया है

181

China : चीन की वामपंथी सरकार ने विकास परियोजनाओं के लिए प्राचीन इमारतों को ढहाने का अभियान तेज कर दिया है. सरकार की इस येाजना से हेनान प्रांत में रोमन कैथोलिक समुदाय के पास प्रार्थना करने के लिए कोई जगह नहीं बच रही है. खबरों के अनुसार मध्य चीन में कैथोलिक चर्च के बाहर लगे एक सरकारी साइन बोर्ड पर बच्चों को प्रार्थना में शामिल नहीं होने की चेतावनी जारी की गयी है. अवैध माने जाने वाले चर्च गिराये जा रहे हैं. पादरी अपने समुदाय के लोगों की निजी सूचना अधिकारियों को देने को विवश हैं. चीन में ईसाईयों के लिए इसी वर्तमान में ऐसा ही माहौल बना हुआ है. यह अभियान और तेज होता जा रहा है.

इसे भी पढ़ेंः मोदी विरोध अपनी जगह, ममता बनर्जी केंद्र की योजनाएंं लागू करने में अव्वल

1951 में वेटिकन और बीजिंग के आपसी संबंध कटु हो गये थे

1951 में वेटिकन और बीजिंग के आपसी संबंध कटु हो गये थे, हालांकि अब उनमें सुधार आया है और बीजिंग के बिशप की नियुक्ति के अधिकार को लेकर जारी विवाद अब कुछ सुलझता दिख रहा है. इस विवाद के कारण चीन के करीब एक करोड़, 20 लाख कैथोलिक दो समूहों में बंट गये हैं. एक समूह सरकार द्वारा मंजूर धर्माधिकारी को मानता है और दूसरा समूह रोम समर्थक चर्च के स्वीकृत नियमों को मानता है.

palamu_12

यहां चर्च के शीर्ष पर से क्रॉस हटा लिये गये हैं, मुद्रित धार्मिक सामग्रियों और पवित्र चीजों को जब्त कर लिया गया है और चर्च द्वारा चलाये जाने वाले केजी स्कूलों को बंद कर दिया गया है. चर्च से राष्ट्रीय झंडा फहराने और संविधान को प्रदर्शित करने को कहा गया है जबकि सार्वजनिक स्थानों से धार्मिक प्रतिमाओं को हटाने को कहा गया है.

इसे भी पढ़ेंःपुलिस महकमे के एक खास वर्ग का नौकरशाही में वर्चस्व, राष्ट्रपति से शिकायत

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: