Crime NewsLead NewsNational

चीनी टेनिस स्टार पेंग बड़ा खुलासा – पूर्व उप प्रधानमंत्री ने यौन संबंध बनाने को किया था मजबूर

चीन में पहली बार कम्युनिस्ट पार्टी के किसी सीनियर लीडर पर इस तरह के आरोप लगे

New Delhi : कुछ वर्ष पहले यौन उत्पीड़न की शिकार हुई महिलाओं ने उन व्यक्ति के बारे में बताया था जिन्होंने किसी ना किसी तरीके से उनका यौन शोषण किया था. इसने एक अभियान का रूप ले लिया था. भारत में भी मशहूर पत्रकार एमजे अकबर और कई फिल्मी हस्तियों पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगे थे. इस अभियान को मीटू नाम दिया गया था. अब इस कड़ी में ताजा मामला चीन से आया है.

चीन की टेनिस स्टार पेंग शुआई (Chinese tennis star Peng Shuai) ने सार्वजनिक रूप से पूर्व उप प्रधानमंत्री पर यौन संबंध (Sexual Relation) बनाने के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया है. इस संबंध में टेनिस स्टार ने एक पोस्ट सोशल मीडिया पर डाला है.
चीनी सोशल मीडिया साइट वीबो पर एक पोस्ट में पेंग ने कहा कि पूर्व उप प्रधानमंत्री झांग गाओली ने उन्हें यौन संबंध बनाने के लिए ‘मजबूर’ किया था.

इसे भी पढ़ें : NEET Result 2021 : गिरिडीह के अभिषेक को नीट यूजी परीक्षा में 1670वां रैंक

Catalyst IAS
ram janam hospital

डबल्सी में नंबर एक खिलाड़ी रह चुकी है पेंग शुआई

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

चीन में पहली बार कम्युनिस्ट पार्टी के किसी सीनियर लीडर के ख़िलाफ़ इस तरह के आरोप लगाए गए हैं. इन आरोपों के बाद डबल्सि में नंबर एक खिलाड़ी रह चुकी पेंग शुआई के बारे में चीन के भीतर ‘इंटरनेट सर्च’ भी सीमित कर दी गई है.

झांग गाओली ने टेनिस स्टार के दावों पर फ़िलहाल कुछ नहीं कहा है. वीबो पर की गई पोस्ट को चीन ने पूरी से इंटरनेट से ग़ायब कर दिया है. साल 2013 से 2018 के बीच चीन के उप-प्रधानमंत्री रहे झांग गाओली चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के करीबी सहयोगी थे.

इसे भी पढ़ें : पटना सिटी में 50 लाख की विदेशी शराब जब्त, मोतिहारी में 151 किलो गांजा बरामद

ये लिखा है पेंग ने

टेनिस खिलाड़ी पेंग ने पोस्ट में लिखा है कि , ‘उप-प्रधानमंत्री झांग गाओली मुझे पता है कि आप जैसा प्रतिष्ठित व्यक्ति कहेगा कि आप नहीं डरते हैं लेकिन भले ही वह पत्थर पर कंकड़ मारने जैसा क्यों न लगे, मैं आपके बारे में सच बताऊंगी.’

पेंग ने लिखा कि पहली बार उसे तब मजबूर किया गया जब झांग गाओली ने उन्हें टेनिस खेलने के लिए बुलाया, ‘उस दिन मैंने अपनी सहमति नहीं दी थी. मैं लगातार रो रही थी. आप मुझे अपने घर ले गये. वहां मुझे फिर संबंध बनाने के लिए मजबूर किया. ‘

इसे भी पढ़ें : चाईबासा : लालकृष्ण आडवाणी की सुरक्षा में तैनात NSG जवान और ममरे भाई की सड़क हादसे में मौत

‘मेरे पास कोई सबूत नहीं पर

पेंग ने भी लिखा कि वे अपने आरोपों के पक्ष में सबूत नहीं दे पाएंगी. उन्होंने लिखा, ‘मेरे पास कोई सबूत नहीं है और कोई सबूत होना नामुमकिन था क्योंकि आपको हमेशा डर था कि मैं टेप रिकॉर्डर जैसा कुछ लेकर आऊंगी ताकि सबूत जमा कर सकूं इसलिए न तो कोई ऑडियो और न ही वीडियो रिकॉर्ड मौजूद है. मेरे पास सिर्फ़ सिर्फ़ वास्तविक अनुभव है. ‘

इसे भी पढ़ें : बेतिया में विषाक्त शराब से जान गंवाने वालों की संख्या 12 हुई, आधा दर्जन उपचाराधीन

Related Articles

Back to top button