NationalTOP SLIDERWorld

लद्दाख के गांव में घुसे चीनी सैनिक, झंडे-बैनर दिखाये

New Delhi: चीन ने एलएसी के पास एक बार फिर भारत पर हावी होने की कोशिश की है. चीनीं सैनिकों ने कुछ नागरिकों के साथ देमचुक क्षेत्र में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के पास सिंधु नदी के पार से झंडे और बैनर दिखाये हैं.
घटना 6 जुलाई की है. उस वक्त पूर्वी लद्दाख के देमचुक में कुछ भारतीय ग्रामीण दलाई लामा का जन्मदिन मना रहे थे.

स्थानीय लोगों ने बताया कि कच्ची सड़क पर चीनी सैनिक और वहां के कुछ नागरिक पांच वाहनों में आये और जहां दलाई लामा का बर्थडे सेलिब्रेट किया जा रहा था, वहां से करीब 200 मीटर की दूरी से उन्हों ने बैनर दिखाये. घटना डोला तामगो में कोयुल गांव की है.

advt

जिस जगह से खड़े होकर उन्होंने बैनर दिखाये वह भारत में आती है. तकरीबन आधा घंटे वे भारतीय क्षेत्र में खड़े होकर ग्रामीणों को आंखें दिखाते रहे. उन लोगों ने हाथ में चीन का झंडा उठाया हुआ था. इनके हाथ में लंबा सा बैनर था जिस पर लाल शब्दों से लिखा गया था.

इसे भी पढ़ें –रांची में मिले ब्लैक फंगस के 3 नये केस

adv

प्रधानमंत्री ने दलाई लामा को दी थी शुभकामनाएं

दलाई लामा के 86वें जन्मददिन पर पिछले मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें फोन पर बधाई दी थी. 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद पहली बार मोदी ने सार्वजनिक तौर पर दलाई लामा से बात करने की पुष्टि की थी.

इसके जरिये मोदी ने चीन को संदेश दिया था कि अगर वह संवेदनशील मुद्दों पर भारत को ठेस पहुंचा सकता है तो भारत भी ठीक वैसा ही कर सकता है.

इसे भी पढ़ें –RIMS: सेकेंड वेव में खरीदे गये ट्रॉली और बेड होने लगे बर्बाद

इसी कड़ी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को चीन को फिर झटका दिया था. उन्हों ने वियतनाम के पूर्व सुरक्षा अधिकारी और वहां की कम्युनिस्ट पार्टी के नेता फाम मिन्ह चीन्ह को प्रधानमंत्री बनने पर बधाई दी थी. साथ ही वियतनाम कम्युनिस्ट पार्टी की सालगिरह की भी शुभकामनाएं दी थी.

उन्होंमने फाम को भारत आने का न्यौीता भी दिया. जबकि इसके करीब एक हफ्ते पहले कम्युीनिस्टअ पार्टी ऑफ चाइना की स्था पना के शताब्दीत समारोह पर उन्होंयने न तो कोई ट्वीट किया था न कोई संदेश दिया था.

इसे भी पढ़ें –मैट्रिक परीक्षा 2023 के लिए शुरू हुआ रजिस्ट्रेशन, एग्जाम के लिए 14 साल का होना अनिवार्य

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: