न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चीन : मंगखुत तूफान रविवार को दस्तक देगा, समुद्र में नौका सेवाएं बंद करने का आदेश

चीन ने प्रचंड तूफान मंगखुत के दक्षिणी हैनान और ग्वांगडोंग प्रांत में पहुंचने पर शनिवार को क्योनगोज़ो स्ट्रेट में नौका सेवाएं रोक दीं.

228

 Beijing : चीन ने प्रचंड तूफान मंगखुत के दक्षिणी हैनान और ग्वांगडोंग प्रांत में पहुंचने पर शनिवार को क्योनगोज़ो स्ट्रेट में नौका सेवाएं रोक दीं. स्थानीय मौसम ब्यूरो ने बताया कि मंगखुत के रविवार रात को पश्चिमी ग्वांगडोंग और पूर्वी हैनान के बीच एक इलाके में पहुंचने की संभावना है जिससे तेज आंधी चलने और मूसलाधार बारिश होने की आशंका है. चीन के राष्ट्रीय मौसमविज्ञान केंद्र ने बताया कि मंगखुत तूफान ग्वांगडोंग प्रांत के यांगजिआंग शहर से लगभग 1,000 किलोमीटर दूर सुबह आठ बजे 26 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से उत्तर-पश्चिम दिशा की ओर बढ़ रहा है.

इसे भी पढ़ेंः मोदी विरोध अपनी जगह, ममता बनर्जी केंद्र की योजनाएंं लागू करने में अव्वल

समुद्री प्रशासन ने कामगारों को निकालने के लिए हेलीकॉप्टर और नौकाएं तैनात कीं

सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ की एक खबर के अनुसार प्रांतीय समुद्री प्रशासन ने तट पर काम कर रहे 3,238 कामगारों को निकालने के लिए हेलीकॉप्टर और नौकाएं तैनात की हैं तथा 6,266 जहाजों को तूफान के खिलाफ एहतियाती कदम उठाने के आदेश दिये हैं. खबर में बताया गया है कि तूफान के कारण प्रांत में सड़कों और पुलों का निर्माण कार्य निलंबित कर दिया गया है.

इसे भी पढ़ेंःपुलिस महकमे के एक खास वर्ग का नौकरशाही में वर्चस्व, राष्ट्रपति से शिकायत

 मंगखुत फिलीपीन पहुंच गया, भूस्खलन से दो महिलाओं की मौत

palamu_12

भीषण तूफान मंगखुत शनिवार को फिलीपीन पहुंच गया. तूफान से हुए भूस्खलन से दो महिलाओं की मौत हो जाने की खबर है.  इस संबंध में लीपीन पुलिस अधीक्षक पिलिता तासीओ ने बताया कि बागियो शहर में तूफान से भारी बारिश के कारण एक पहाड़ी के ढह जाने के बाद मिट्टी और मलबे में दबे दो महिलाओं के शव निकाले गये. मंगखुत तड़के लूज़ोन द्वीप के उत्तरी हिस्से से यहां पहुंचा. उसके चलते कई मकानों की छतें उड़ गयी, पेड़ गिर गये और बिजली की आपूर्ति ठप्प पड़ गयी. इस इलाके में लगभग एक करोड़ लोग रहते हैं, जिनमें से अधिकतर लोग लकड़ी के कमजोर आश्रयों में रहते हैं.

इसे भी पढ़ेंः राजीव गांधी हत्याकांड :  राज्यपाल ने कहा – दोषियों की रिहाई की सिफारिश केंद्र से नहीं की है

हजारों शरणार्थियों ने आपात आश्रय गृह में पनाह ली

सामाजिक कल्याण सचिव वर्जीनिया ओरोगा ने इस संबंध में बताया कि हमें यहां काफी नुकसान होने की आशंका है. हजारों शरणार्थियों ने आपात आश्रय गृह में पनाह ली है. मंगखुत’ के यहां पहुंचने पर 170 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलीं. शुक्रवार को उत्तर-पूर्वी लुजोन द्वीप तेज बारिश और तूफानी हवाओं की चपेट में आ चुका है. अभी वहां से किसी बड़े नुकसान या बाढ़ की खबर नहीं मिली है. हर साल फिलीपीन को औसतन 20 तूफान और चक्रवात का सामना करना पड़ता है. इससे सैकड़ों लोगों की जान जाती है और लाखों लोगों का जीवन अस्त-व्यस्त हो जाता है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: