DhanbadJharkhand

झरिया में बच्चों ने प्रदूषण को लेकर निकाली रैली, कहा- हम बच्चों का क्या कसूर जो ऐसा भविष्य सौंप रहे हैं

विज्ञापन

Dhanbad : झरिया को देश के सबसे प्रदूषित शहर का तगमा मिलने के बाद पहली बार न्यू एंजल होम स्कूल के बच्चों ने रैली निकाल कर लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक किया.

विद्यार्थियों ने बताया कि हम लोगों को झरिया के सबसे प्रदूषित शहर होने के कलंक से मुक्ति चाहिए. छात्रों ने बताया कि झरिया शहर को प्रदूषण से बचाने के लिए सभी लोगों को एकजुट होना पड़ेगा.

उन्होंने कहा कि झरिया के लोग जागरूक होंगे तो झरिया जो अभी सबसे प्रदूषित शहर है, वह देश का सबसे अधिक स्वच्छ शहर बन जायेगा.

इसे भी पढ़ें – #Ranchi: रातू में 5 वर्षीय बच्चे की गला दबा कर हत्या, खेलने के दौरान हुआ था लापता

वृक्षों की अंधाधुंध कटाई पर लगे रोक

प्रभात फेरी में शामिल बच्चों ने मांझी बस्ती, घटवार बस्ती, बालू लाइन, डिगवाडीह बाजार,  डिगवाडीह 12 नंबर आदि जगहों का भ्रमण किया और जागरूकता के नारे लगाये.

छात्र-छात्राएं अपने हाथों में स्लोगन लिखे चार्ट व बैनर लिए हुए थे. सभी बैनर पर पर्यावरण बचाव के नारे लिखे हुए थे. बच्चों ने झरिया को प्रदूषण से बचाने के लिए वृक्षों की सुरक्षा पर बल दिया.

उन्होंने कहा कि वृक्ष रहेगा, तभी हम मनुष्यों का जीवन भी सुरक्षित रहेगा. वृक्षों के बिना मानव का जीवन संकट में पड़ जायेगा. उन्होंने कहा कि आज जिस तरीके से पेड़ों की कटाई हो रही है वह दुखदायी है. उन्होंने कहा कि आखिर हम बच्चों का क्या कसूर है कि हमें ऐसा भविष्य दिया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें – #Dhanbad: डॉक्टर की लापरवाही से गर्भवती की मौत के मामले में एफआइआर के बाद भी कार्रवाई नहीं

प्रदूषण के कारण लोगों को हो रही हैं कई बीमारियां

इस प्रभात फेरी को लेकर विद्यालय के प्राचार्य एमएस अख्तर ने कहा कि आज झरिया प्रदूषण के मामले में प्रथम स्थान पर आ गया है. इस प्रदूषण के कारण लोगों को कई भयानक बीमारियां भी हो गयी हैं.

लोगों का जीना मुश्किल हो गया है. इसलिए सभी लोग जागरूक होकर पौधे लगायें और अपने मुहल्ले को स्वच्छ रखें. मुहल्ले को साफ रखने से ही पर्यावरण स्वछ रहेगा और अगर पर्यावरण स्वछ रहेगा तो हमारा जीवन भी स्वस्थ रहेगा.

इसे भी पढ़ें – खाली बैठे हैं बीजेपी के विधायक, इसलिए लगा रहे हैं अनर्गल आरोप : रामेश्वर

Telegram
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close