AutomobilesJamshedpurJharkhand

Tata Motors के वेतन समझौते पर निबंधित श्रमिकों के बच्चों की टिकी निगाहें, अच्‍छे दि‍न आने की उम्‍मीद

Jamshedpur: टाटा मोटर्स में 500 से अधिक निबंधित श्रमिकों के बच्चे नियोजन की आस देख रहे हैं. वे लोग वेतन समझौता को लेकर काफी उत्साहित हैं और उन्हें उम्मीद है कि इस समझौते के दौरान टाटा मोटर्स स्किल ट्रेनिंग
(टीएमएसटी) की बहाली होगी. 2021 में हुई टाटा मोटर्स की स्किल ट्रेनिंग की परीक्षा में लगभग 400 से अधिक निबंधित श्रमिक पुत्र और पुत्रियों शामिल हुए थे. लेकिन 115 उम्मीदवार ही सफल हो पाए थे. इससे बड़ी संख्या में लड़कियों का चयन नहीं हो पाया था.

टाटा मोटर्स कर्मियों का कहना है कि टाटा स्टील सरीखी कंपनियों में महिलाओं को प्रोत्साहन दिया जा रहा है. लेकिन एक ही समूह की कंपनी होने के चलते टाटा मोटर्स में महिलाओं को प्राथमिकता नहीं मिल रही. वैसे श्रमिक जो कंपनी से सेवानिवृत्त हो गए हैं वे इस बार के वेतन समझौता पर टकटकी लगाए हुए हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि इस बार टीएमएसटी की भी बहाली हो सकती है. 3 साल पूर्व कंपनी से सेवानिवृत्त हुए एम करूआ बताते हैं कि उनकी लड़की का निबंधन है. पिछली परीक्षा में चयन नहीं हो पाया था. इस साल उम्मीद है कि बेटी का भी चयन हो जाएगा. आरके शर्मा, पीएन चटर्जी, आरके सिन्हा, एस हेम्ब्रम, जेपी सिंह सहित कई सेवानिवृत्त मजदूरों ने बताया कि उन्होंने अपने वार्ड का रजिस्ट्रेशन करा रखा है.

ये भी पढ़ें-BIG ISSUES: आग से खाक होते जंगल, तीन दिन में देश में आगजनी की 16 हजार 840 घटनाएं

ram janam hospital
Catalyst IAS

Related Articles

Back to top button