ChatraJharkhand

चतराः भगवान भरोसे सदर अस्पताल की चिकित्सा व्यवस्था, एक खुराक दवा भी नसीब नहीं हो रही बच्चों को

Chatra: अगर आप उपचार कराने के लिए सदर अस्पताल जा रहे हैं औऱ खास कर बच्चों का तो कोई फायदा नहीं होनेवाला है. क्योंकि डॉक्टर तो देख लेंगे पर बच्चों को एक खुराक दवा भी नसीब नहीं होगी. कारण अस्पताल में बच्चों का न तो कोई सिरप है और न दवा.

इसे भी पढ़ें – झारखंड के डीसी IAS Code of Conduct के खिलाफ जाकर चला रहे हैं #jharkhandwithmodi कैंपेन

यह स्थिति एक दो दिनों से नहीं बल्कि करीब एक माह से बनी हुई है. परन्तु न तो इसकी कोई चिंता सिविल सर्जन को है औऱ न ही कार्यालय के बड़ा बाबुओं को. अगर समय रहते अस्पताल में दवा की व्यवस्था नहीं की गयी तो मरीजों के लिए सदर अस्पताल आने का कोई मायने मतलब नहीं रह जायेगा.

advt

इसे भी पढ़ें – #Dhullu तेरे कारण : रोजगार नहीं, एक वक्त खाने को भी मोहताज, अब 25 सितंबर को सपरिवार करेंगे आत्मदाह

एक बच्चे को सदर अस्पताल में दिखाने के लिए पहुचीं नगवा की सकुन्ती देवी ने बताया कि पैसे के अभाव में यह सोच कर सदर अस्पताल आयी कि बच्चे को मुफ्त दवा मिलेगी. पर यहां आने के बाद दवा के लिए बाहर का पुर्जा थमा दिया गया. उसने आगे बताया कि अगर हमारे पास पैसा ही होता तो निजी क्लीनिक में नहीं दिखवा लेती, यहां क्यूं आती.

इसे भी पढ़ें – #Assembly Elections : बोकारो के सीटिंग MLA बिरंची को पूर्व जिला अध्यक्षों से मिल रही है कड़ी टक्कर

adv
advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button