Crime NewsJharkhandPalamu

Ranchi से शिफ्ट किया गया बाल कैदी पलामू रिमांड होम से फरार, दुष्कर्म का था आरोपी

25 घंटे के अंदर में 4 बाल कैदी, खिड़की का ग्रिल काटकर भागे हैं

Palamu : पलामू जिला मुख्यालय मेदिनीनगर के रिमांड होम (बाल सम्प्रेक्षण गृह) से एक बार फिर एक बाल कैदी फरार हो गया है. पिछले 25 घंटे के भीतर रिमांड होम से बाल कैदियों के भागने की यह दूसरी घटना है. इस अवधि में अबतक 4 बाल कैदी खिड़की का ग्रिल काटकर भाग निकले हैं.

एक के बाद एक भाग जाने का मामला सामने आने से रिमांड होने की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठने लगे हैं. बाल कैदी के भागने के बाद सिविल और पुलिस प्रशासन मामले की छानबीन में एक बार फिर से जुट गया है. मंगलवार की रात भागे तीन बाल कैदियों का अबतक कोई अता पता नहीं चल पाया है.

इसे भी पढ़ें : बाबा धाम में भक्तों का प्रवेश रोकने के खिलाफ सांसद निशिकांत उपवास पर

बुधवार रात 12.20 में भागा बाल कैदी

रिमांड होम के एक कमरे में रह रहे दो बाल कैदियों में से एक नाबालिक बंदी बुधवार की देर रात खिड़की का ग्रिल तोड़कर पीछे की दीवार फांदकर बाहर भाग निकला. घटना रात के 12.20 बजे की है. फरार हुआ बाल बंदी पंडवा थाना क्षेत्र का रहने वाला है. वह दुष्कर्म का आरोपी है. सात माह पहले दिसम्बर 2020 में उसे रांची रिमांड होम से पलामू रिमांड होम में शिफ्ट किया गया था.

advt

इसे भी पढ़ें : बेगूसराय में जमीन की खातिर भतीजे ने चाचा की गोली मारकर की हत्या

रात में ही खोजने लगे थे सुरक्षाकर्मी

फरार बाल बंदी एक सप्ताह में रिमांड होम से निकलने वाला था. उसके पहले ही फरार होने की जानकारी रात में ही सुरक्षाकर्मियों को लग गई थी. खिड़की का ग्रिल टूटने की आवाज के बाद सुरक्षाकर्मी जब सभी कमरों की तलाशी लेने पहुंचे, तब एक बाल बंदी नहीं मिला. रात में ही उसे खोजने में लग गए. बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन से लेकर उसके घर तक सुरक्षाकर्मी उसकी तलाश में गये, लेकिन वह नहीं मिला. मामले की जानकारी शहर थाना को दे दी गई है.

इसे भी पढ़ें : 6th JPSC में नई मेरिट लिस्ट के खिलाफ अभ्यर्थियों ने हाई कोर्ट में दाखिल की याचिका

चार माह में चौथी घटना

बताते चलें कि 25 घंटे में रिमांड होम से बाल बंदी के फरार होने की यह दूसरी घटना है और चार माह में चौथी घटना है. इस तरह की लगातार हो रही घटना से रिमांड होम की सुरक्षा पर सवाल उठने लगा है. जबकि वहां जघन्य अपराध हत्या, दुष्कर्म के आरोपी नाबालिकों को रखा जाता है. चार बंदियों के फरार होने के बाद अब रिमांड होम में 55 नाबालिग हैं.

इसे भी पढ़ें : क्या झारखंड के सत्ताधारी महागठबंधन में राजद को किया जा रहा है दरकिनार ?

मंगलवार की रात तीन बाल कैदी हुए थे फरार

मंगलवार की रात 11.09 बजे तीन बाल कैदी रिमांड होम फरार हो गए थे. तीनों बाल कैदियों ने पहले कमरे की खिड़की में लगी लोहे की ग्रिल को तोड़ा और फिर उसके पीछे दीवार से सटे एक नाली से होते हुए रिमांड होम के बाहर निकल गए. फरार होने वाले बाल कैदी चैनपुर, रेहला और धनबाद के रहने वाले हैं. चैनपुर व धनबाद के नाबालिक पर दुष्कर्म और रेहला वाले पर हत्या का आरोप है. चैनपुर का बाल कैदी पूर्व में भी भागा था, लेकिन बाद में उसने सरेंडर कर दिया था. रिमांड होम का संचालन समाज कल्याण विभाग द्वारा किया जाता है.

इसे भी पढ़ें : पति आया 440 वोल्ट तार की चपेट में, बचाने गयी पत्नी, दोनों की मौत

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: